Share this page on following platforms.

Home Gurus Shyam Sundar Ji

Bhagwat Katha by Dr. shyam Sundar Parashar ji December 2012

Part1_1

Part1_2

Part1_3

part2_1

part2_2

part2_3

part2_4

part2_5

part3_1

part3_2

part3_3

part4_1

part4_2

part4_3

part4_4

part5_2

part5_3

part5_4

part6_1

part6_2

part6_3

part6_4

part6_5

part7_2

part7_3

part7_4

part8_1

part8_2

part8_3

part8_4

part8_5

part9_1

part9_2

part9_3

part9_4

part10_1

part10_3

part10_4

part10_5

part11_1

part11_2

part11_3

part11_4

part12_1

part12_2

part12_3

part12_4

part12_5

part13_1

part13_2

part13_3

part13_4

Contents of this list:

Bhajan Lyrics View All

कान्हा की दीवानी बन जाउंगी,
दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी,
बोल कान्हा बोल गलत काम कैसे हो गया,
बिना शादी के तू राधे श्याम कैसे हो
श्यामा प्यारी मेरे साथ हैं,
फिर डरने की क्या बात है
कोई पकड़ के मेरा हाथ रे,
मोहे वृन्दावन पहुंच देओ ।
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया ।
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ॥
वृंदावन में हुकुम चले बरसाने वाली का,
कान्हा भी दीवाना है श्री श्यामा
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
हे राम, हे राम, हे राम, हे राम
जग में साचे तेरो नाम । हे राम...
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
वृदावन जाने को जी चाहता है,
राधे राधे गाने को जी चाहता है,
मन चल वृंदावन धाम, रटेंगे राधे राधे
मिलेंगे कुंज बिहारी, ओढ़ के कांबल
सारी दुनियां है दीवानी, राधा रानी आप
कौन है, जिस पर नहीं है, मेहरबानी आप की
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
Ye Saare Khel Tumhare Hai Jag
Kahta Khel Naseebo Ka
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
मेरा यार यशुदा कुंवर हो चूका है
वो दिल हो चूका है जिगर हो चूका है
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥
तेरे दर पे आके ज़िन्दगी मेरी
यह तो तेरी नज़र का कमाल है,
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
करदो करदो बेडा पार, राधे अलबेली सरकार।
राधे अलबेली सरकार, राधे अलबेली
मीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे,
मने कारो कारो जमुनाजी रो पानी लागे
एक कोर कृपा की करदो स्वामिनी श्री
दासी की झोली भर दो लाडली श्री राधे॥
दुनिया का बन कर देख लिया, श्यामा का बन
राधा नाम में कितनी शक्ति है, इस राह पर