Share this page on following platforms.

Home Singers Govind Bhargav ji

govind bhargav

tum hamare the prabhu ji(govind bhargav)

laagi lagan mat todna(govind bhargava)

SHRI GOVIND BHARGAV SINGING BHAJAN IN BRAJ 1

Deleted video

Hari Ji Mori Laagi Lagan [Full Song] Braj Ras Yamuna

Itna Bata Do Pyare By Shri Govind Bhargav [Full Song] Braj Ras Dhara

Je Tu Na Fadada Saadi Ba [Full Song] - Basa Lo Vrindavan Mein

Govind Bhargav Ji - Jai Jai Radha Raman Hari Bol

Mohe To Pyari Laago Barsaane Ki Galiyan [Full Song] Basa Lo Vrindavan Mein

Sri Krishna Govinda Hare Murari Keertan[Full Song] - Basa Lo Vrindavan Mein

Contents of this list:

tum hamare the prabhu ji(govind bhargav)
laagi lagan mat todna(govind bhargava)
SHRI GOVIND BHARGAV SINGING BHAJAN IN BRAJ 1
Deleted video
Hari Ji Mori Laagi Lagan [Full Song] Braj Ras Yamuna
Itna Bata Do Pyare By Shri Govind Bhargav [Full Song] Braj Ras Dhara
Je Tu Na Fadada Saadi Ba [Full Song] - Basa Lo Vrindavan Mein
Govind Bhargav Ji - Jai Jai Radha Raman Hari Bol
Mohe To Pyari Laago Barsaane Ki Galiyan [Full Song] Basa Lo Vrindavan Mein
Sri Krishna Govinda Hare Murari Keertan[Full Song] - Basa Lo Vrindavan Mein

Bhajan Lyrics View All

तेरे दर पे आके ज़िन्दगी मेरी
यह तो तेरी नज़र का कमाल है,
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
कोई कहे गोविंदा, कोई गोपाला।
मैं तो कहुँ सांवरिया बाँसुरिया वाला॥
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
दिल की हर धड़कन से तेरा नाम निकलता है
तेरे दर्शन को मोहन तेरा दास तरसता है
सारी दुनियां है दीवानी, राधा रानी आप
कौन है, जिस पर नहीं है, मेहरबानी आप की
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
मन चल वृंदावन धाम, रटेंगे राधे राधे
मिलेंगे कुंज बिहारी, ओढ़ के कांबल
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,
जिनको जिनको सेठ बनाया वो क्या
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ।
वृन्दावन के बांके बिहारी,
हमसे पर्दा करो ना मुरारी ।
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
कोई पकड़ के मेरा हाथ रे,
मोहे वृन्दावन पहुंच देओ ।
कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना
अपनी वाणी में अमृत घोल
अपनी वाणी में अमृत घोल
दुनिया से मैं हारा तो आया तेरे द्वार,
यहाँ से गर जो हरा कहाँ जाऊँगा सरकार
श्री राधा हमारी गोरी गोरी, के नवल
यो तो कालो नहीं है मतवारो, जगत उज्य
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
प्रभु कर कृपा पावँरी दीन्हि
सादर भारत शीश धरी लीन्ही
श्यामा प्यारी मेरे साथ हैं,
फिर डरने की क्या बात है
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
कहना कहना आन पड़ी मैं तेरे द्वार ।
मुझे चाकर समझ निहार ॥
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को