Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

बोलो माँ के जयकारे, मिट जाये संकट सारे
मिट जाये संकट सारे, भर देगी माँ भंडारे

बोलो माँ के जयकारे, मिट जाये संकट सारे
मिट जाये संकट सारे, भर देगी माँ भंडारे
भर देगी माँ भंडारे, कर देगी वारे न्यारे
कर देगी वारे न्यारे, तुम बोलो रे जयकारे

तुम बोलो रे जयकारे, पहुचेंगे माँ के द्वारे
पहुचेंगे माँ के द्वारे, माँ बैठी राह निहारे
माँ बैठी राह निहारे, बैठी है खोल भंडारे
जो बोलेगा जयकारे, माँ उसके भाग सँवारे

ऊँचे पहाड़ो डेरा माँ का,
पथरीली और कठिन चढाई
मंजिल कट जायेगी यूँही.
मिल कर जयकारे बोलो रे भाई

जिसने गाया उसने पाया
जिसने नाम की धुनी लगाई
उसके सब संकट हरती है
पल भर में वैष्णो महामाई

जरा प्रेम से बोलो, जय माता दी
जरा जोर से बोलो, जय माता दी
अरे मिल के बोलो, जय माता दी
भाई दिल से बोलो, जय माता दी

माँ पार उतारे, जय माता दी
माँ कष्ट निवारे, जय माता दी
मोल ना लगता, जय माता दी
होठो पर सजता, जय माता दी

अरे ताली बजा के, जय माता दी
जरा शीश झुका के, जय माता दी
आते जाते, जय माता दी
तुम करो न बाते, जय माता दी

अरे बोल रे भक्ता, जय माता दी
तेरा कुछ नहीं घटता, जय माता दी
अरे आगे वालो, जय माता दी
पीछे वालो, जय माता दी

माँ शेरा वाली, जय माता दी
माँ मेहरा वाली, जय माता दी
माँ अष्टभुजी है, जय माता दी
क्या खूब सजी है, जय माता दी

माँ आदि भवानी, जय माता दी
माँ जग कल्याणी, जय माता दी
है शेर सवारी, जय माता दी
लगती बड़ी प्यारी, जय माता दी

माँ चक्र धरनी, जय माता दी
कष्ट हारिनी, जय माता दी
सबकी रखवाली, जय माता दी
माँ भोली भली, जय माता दी

माँ वैष्णव रानी, जय माता दी
अम्बे महारानी, जय माता दी
मा देके दर्शन, जय माता दी
कर देगी पावन, जय माता दी

बोलो माँ के जयकारे, मिट जाये संकट सरे
मिट जाये संकट सारे, भर देगी माँ भंडारे
भर देगी माँ भंडारे, कर देगी वारे न्यारे
कर देगी वारे न्यारे, तुम बोलो रे जयकारे

अरे बोलो जय जयकारे, पहुचेंगे माँ के द्वारे
पहुचेंगे माँ के द्वारे, माँ बैठी राह निहारे
माँ बैठी राह निहारे, बैठी है खोल भंडारे
जो बोलेगा जयकारे, माँ उसके भाग सँवारे

ये हाथी मत्था, जय माता दी
भक्तो का जत्था, जय माता दी
लो भवन आ गया, जय माता दी
अब कमी रही क्या, जय माता दी

यहाँ खुल्ले दर्शन, जय माता दी
करते है सब जन, जय माता दी
तुम दर्शन कर लो, जय माता दी
झोली भर लो, जय माता दी

इस गुफा के अन्दर, जय माता दी
बड़ा सोना मंदिर, जय माता दी
है अजब नज़ारा, जय माता दी
है स्वर्ग से प्यारा, जय माता दी

ये तीन पिंडिया, जय माता दी
है तीन शक्तिया, जय माता दी
फिर अंतिम दर्शन, जय माता दी
नयनो का वंदन, जय माता दी

देखो,,,, माँ का पवन धाम,
हां बनते,,,,, सब के बिगड़े काम॥
देखो माँ का पवन धाम



bolo maa ke jaikare mitt jaye sankat sare



Krishna Bhajans App

Bhajan Lyrics View All

तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।
जग में सुन्दर है दो नाम, चाहे कृष्ण
बोलो राम राम राम, बोलो श्याम श्याम
वृंदावन में हुकुम चले बरसाने वाली का,
कान्हा भी दीवाना है श्री श्यामा
ज़रा छलके ज़रा छलके वृदावन देखो
ज़रा हटके ज़रा हटके ज़माने से देखो
मीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे,
मने कारो कारो जमुनाजी रो पानी लागे
मुझे चढ़ गया राधा रंग रंग, मुझे चढ़
श्री राधा नाम का रंग रंग, श्री राधा
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
तुम रूठे रहो मोहन,
हम तुमको मन लेंगे
रंगीलो राधावल्लभ लाल, जै जै जै श्री
विहरत संग लाडली बाल, जै जै जै श्री
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
एक कोर कृपा की करदो स्वामिनी श्री
दासी की झोली भर दो लाडली श्री राधे॥
बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा।
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,
दिल की हर धड़कन से तेरा नाम निकलता है
तेरे दर्शन को मोहन तेरा दास तरसता है
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
ये तो बतादो बरसानेवाली,मैं कैसे
तेरी कृपा से है यह जीवन है मेरा,कैसे
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से
गोविन्द नाम लेकर, फिर प्राण तन से
मेरा यार यशुदा कुंवर हो चूका है
वो दिल हो चूका है जिगर हो चूका है
मेरी करुणामयी सरकार पता नहीं क्या दे
क्या दे दे भई, क्या दे दे
हो मेरी लाडो का नाम श्री राधा
श्री राधा श्री राधा, श्री राधा श्री
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
श्री राधा हमारी गोरी गोरी, के नवल
यो तो कालो नहीं है मतवारो, जगत उज्य
दुनिया से मैं हारा तो आया तेरे द्वार,
यहाँ से गर जो हरा कहाँ जाऊँगा सरकार
जय राधे राधे, राधे राधे
जय राधे राधे, राधे राधे