Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

मेरे जीवन की जुड़ गयी डोर, किशोरी तेरे चरणन में
किशोरी तेरे चरणन में, महारानी तेरे चरणन में

मेरे जीवन की जुड़ गयी डोर, किशोरी तेरे चरणन में
किशोरी तेरे चरणन में, महारानी तेरे चरणन में

तेरी ऊँची अटारी प्यारी, मैं वारी तेरी गलियन पे
मेरी जीवन की हो जाये भोर, किशोरी तेरे चरणन में

तू एक इशारा कर दे, मई दौड़ी आऊं बरसाने
मैं तो नाचूं बन कर मोर, किशोरी तेरे चरणन में

मेरा पल में भाग्य में बदलदे इशारा तेरी करुणा का
मेरे जन्मों की कट जाए डोर, किशोरी तेरे चरणन में

थक सा गया हूँ जगत झंझट में स्वामिनी बाल में तुम्हारा
भाव सागर में डूब रहा है सूजत नाही किनारा
ऐसे दीन अनाथ को तुम को कौन सहारा
आओ और पकड़ लो उंगली अपना जान दुलारा

मेरी आहों से झोली भर दे तू बस जा तन मन में



mere jeevan ki jud gayi dor, kishori tere charanan me



Krishna Bhajans App

Bhajan Lyrics View All

मेरे जीवन की जुड़ गयी डोर, किशोरी तेरे
किशोरी तेरे चरणन में, महारानी तेरे
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
श्याम बुलाये राधा नहीं आये,
आजा मेरी प्यारी राधे बागो में झूला
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
ना मैं मीरा ना मैं राधा,
फिर भी श्याम को पाना है ।
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
तीनो लोकन से न्यारी राधा रानी हमारी।
राधा रानी हमारी, राधा रानी हमारी॥
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
बोल कान्हा बोल गलत काम कैसे हो गया,
बिना शादी के तू राधे श्याम कैसे हो
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
बृज के नंदलाला राधा के सांवरिया,
सभी दुःख दूर हुए, जब तेरा नाम लिया।
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
साँवरिया ऐसी तान सुना,
ऐसी तान सुना मेरे मोहन, मैं नाचू तू गा
सारी दुनियां है दीवानी, राधा रानी आप
कौन है, जिस पर नहीं है, मेहरबानी आप की
यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है
कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
इक तारा वाजदा जी हर दम गोविन्द
जग ताने देंदा ए, तै मैनु कोई फरक नहीं
मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
श्यामा तेरे चरणों की गर धूल जो मिल
सच कहता हूँ मेरी तकदीर बदल जाए॥
सांवरियो है सेठ, म्हारी राधा जी
यह तो जाने दुनिया सारी है
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
प्रभु कर कृपा पावँरी दीन्हि
सादर भारत शीश धरी लीन्ही
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
कोई पकड़ के मेरा हाथ रे,
मोहे वृन्दावन पहुंच देओ ।
सब के संकट दूर करेगी, यह बरसाने वाली,
बजाओ राधा नाम की ताली ।
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥