Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

तेरे दर की भीख से है,
मेरा आज तक गुज़ारा

तेरे दर की भीख से है, मेरा आज तक गुज़ारा
जीवन का है आधारा , जीने का है सहारा

हे करुना करने वाले, मेरी लाज रखने वाले
तेरे दर से ही है मिलता, हर दीन को सहारा

तेरी बांसुरी के सदके, तेरी हर गली पे कुरबां
तेरा दर है दर हकीक़त, मेरे इश्क का सहारा

मुझे बेकरार रख कर, मेरे दिल में बसने वाले,
जो यही है तेरी मर्ज़ी, मुझे हिजर भी गवारा

तेरे प्यार की हदों को , बस तू ही जानता है *
तुम आ गए वहीँ पे, मैंने जहाँ पुकारा

बेहद है प्यार तेरा, बेहद गुनाह हैं मेरे *
हमको बचा ही लेगा, रहमत का इस इशारा

क्यों ढूंढते फिरें हम , तूफानों में सहारा *
तेरे हाथ में ही लहरें, तेरे हाथ में किनारा



Tere Dar Kee Bheekh Se Hai,
Mera Aaj Tak Guzaara

tere dar kee bheekh se hai, mera aaj tak guzaara
jeevan ka hai aadhaara , jeene ka hai sahaara

he karuna karane vaale, meree laaj rakhane vaale
tere dar se hee hai milata, har deen ko sahaara

teree baansuree ke sadake, teree har galee pe kurabaan
tera dar hai dar hakeeqat, mere ishk ka sahaara

mujhe bekaraar rakh kar, mere dil mein basane vaale,
jo yahee hai teree marzee, mujhe hijar bhee gavaara

tere pyaar kee hadon ko , bas too hee jaanata hai *
tum aa gae vaheen pe, mainne jahaan pukaara

behad hai pyaar tera, behad gunaah hain mere *
hamako bacha hee lega, rahamat ka is ishaara

kyon dhoondhate phiren ham , toophaanon mein sahaara *
tere haath mein hee laharen, tere haath mein kinaara



Bhajan Lyrics View All

तेरे दर पे आके ज़िन्दगी मेरी
यह तो तेरी नज़र का कमाल है,
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है
इक तारा वाजदा जी हर दम गोविन्द
जग ताने देंदा ए, तै मैनु कोई फरक नहीं
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
दुनिया से मैं हारा तो आया तेरे द्वार,
यहाँ से गर जो हरा कहाँ जाऊँगा सरकार
एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
श्यामा तेरे चरणों की गर धूल जो मिल
सच कहता हूँ मेरी तकदीर बदल जाए॥
मुझे चढ़ गया राधा रंग रंग, मुझे चढ़
श्री राधा नाम का रंग रंग, श्री राधा
प्रीतम बोलो कब आओगे॥
बालम बोलो कब आओगे॥
तुम रूठे रहो मोहन,
हम तुमको मन लेंगे
मेरी करुणामयी सरकार, मिला दो ठाकुर से
कृपा करो भानु दुलारी, श्री राधे
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
जग में सुन्दर है दो नाम, चाहे कृष्ण
बोलो राम राम राम, बोलो श्याम श्याम
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
कोई कहे गोविंदा, कोई गोपाला।
मैं तो कहुँ सांवरिया बाँसुरिया वाला॥
वृदावन जाने को जी चाहता है,
राधे राधे गाने को जी चाहता है,
ना मैं मीरा ना मैं राधा,
फिर भी श्याम को पाना है ।
जिनको जिनको सेठ बनाया वो क्या
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ।
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
हो मेरी लाडो का नाम श्री राधा
श्री राधा श्री राधा, श्री राधा श्री
करदो करदो बेडा पार, राधे अलबेली सरकार।
राधे अलबेली सरकार, राधे अलबेली
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
ये तो बतादो बरसानेवाली,मैं कैसे
तेरी कृपा से है यह जीवन है मेरा,कैसे
प्रभु कर कृपा पावँरी दीन्हि
सादर भारत शीश धरी लीन्ही
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
Ye Saare Khel Tumhare Hai Jag
Kahta Khel Naseebo Ka
राधे तु कितनी प्यारी है ॥
तेरे संग में बांके बिहारी कृष्ण