Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी है,
यह तो सारी दुनिया जाने है

सांवरिया है सेठ , मेरी राधा रानी सेठानी है,

यह तो सारी दुनिया जाने है


न अन्न की कमी है, न धन की कमी है, भरियो भंडार है

दिलदार सांवरिया, दिलदार राधा जू, लुटावें प्यार हैं

देवें छप्पर फाड्, नहीं ऐसा कोई दानी है


राजाओं के राजा, महारानी की रानी, सर मोर मुकट ताज है

दरबार निराला, हर बात निराली, सारे जग में राज है

सुने पल में सेठ, सूरे पल मैं सेठानी है….


सुख दुख में सांवरिया, सुख दुख में राधा जी, सदा मेरे साथ हैं

मेरी चिंता दूर करें, मेरी पीड़ा दूर करें,

नरसिं को तो बस अर्ज़ लगनी है


एक तेरा साथ, एक तेरा साथ, हिमको दो जहाँ से प्यारा है

तू है तो हर सहारा है


ना मिले संसार, ना मिले संसार,  तेरा प्यार तो हमारा है

तू है तो हर सहारा है



saanvariya hai seth , meri raadha ji sethani hai,
yah to saaree duniya jaane hai

saanvariya hai seth , meri raadha ji sethani hai,
yah to saaree duniya jaane hai

na ann kee kamee hai, na dhan kee kamee hai, bhariyo bhandaar hai
diladaar saanvariya, diladaar raadha joo, lutaaven pyaar hain
deven chhappar phaad, nahin aisa koee daanee hai

raajaon ke raaja, mahaaraanee kee raanee, sar mor mukat taaj hai
darabaar niraala, har baat niraalee, saare jag mein raaj hai
sune pal mein seth, soore pal main sethaanee hai….

sukh dukh mein saanvariya, sukh dukh mein raadha jee, sada mere saath hain
meree chinta door karen, meree peeda door karen,
narasin ko to bas arz laganee hai

ek tera saath, ek tera saath, himako do jahaan se pyaara hai
too hai to har sahaara hai

na mile sansaar, na mile sansaar, tera pyaar to hamaara hai
too hai to har sahaara hai



Bhajan Lyrics View All

बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है
सांवरियो है सेठ, म्हारी राधा जी
यह तो जाने दुनिया सारी है
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
सब के संकट दूर करेगी, यह बरसाने वाली,
बजाओ राधा नाम की ताली ।
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
श्याम बुलाये राधा नहीं आये,
आजा मेरी प्यारी राधे बागो में झूला
अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,
मेरा यार यशुदा कुंवर हो चूका है
वो दिल हो चूका है जिगर हो चूका है
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,
दुनिया से मैं हारा तो आया तेरे द्वार,
यहाँ से गर जो हरा कहाँ जाऊँगा सरकार
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
मुझे चाहिए बस सहारा तुम्हारा,
के नैनों में गोविन्द नज़ारा तुम्हार
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
मुझे चढ़ गया राधा रंग रंग, मुझे चढ़
श्री राधा नाम का रंग रंग, श्री राधा
हो मेरी लाडो का नाम श्री राधा
श्री राधा श्री राधा, श्री राधा श्री
ना मैं मीरा ना मैं राधा,
फिर भी श्याम को पाना है ।
कहना कहना आन पड़ी मैं तेरे द्वार ।
मुझे चाकर समझ निहार ॥