Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

तुम रूठे रहो मोहन,
हम तुमको मन लेंगे

तुम रूठे रहो मोहन , हम तुमको मना लेंगे
आहों में असर होगा , तेरा दिल भी हिला लेंगे

तेरी याद की लो दिल में, रह रह के भड़कती है
जो आग लगाई है, अश्कों से बुझा देंगे

बड़ी आस से आये है , तेरे दर पे सनम मेरे
तेरे दर के सवाली हैं , खली तो न जायेंगे
तेरे चाहने वाले हैं, चाहत पे भरोसा है
मिलने की तमन्ना है , हम मिल के दिखा देंगे

वादा तो करो प्यारे, इक रोज़ मिलोगे तुम
झूठा ही सही वादा, हम दिल बहला लेंगे

तुम कहते हो मोहन, हमें राधा प्यारी है ,
हम राधे की किरपा से, तुमको भी पा लेंगे

तुम कहते हो मोहन, हमें कहाँ बिठाओगे
दिल में तो आ जाओ, हम पलकों पे बिठा लेंगे

रास्ता तेरे मिलने का, हम जान गए मोहन
राधे जब कह देंगी, हमें सरकार बुला लेंगे



Tum roothe raho mohan,
hum tumko man lenge

tum roothe raho mohan , hum tumko man lenge
aahon mein asar hoga , tera dil bhee hila lenge

teree yaad kee lo dil mein, rah rah ke bhadakatee hai
jo aag lagaee hai, ashkon se bujha denge

badee aas se aaye hai , tere dar pe sanam mere
tere dar ke savaalee hain , khalee to na jaayenge

tere chaahane vaale hain, chaahat pe bharosa hai
milane kee tamanna hai , ham mil ke dikha denge

vaada to karo pyaare, ik roz miloge tum
jhootha hee sahee vaada, ham dil bahala lenge

tum kahate ho mohan, hamen raadha pyaaree hai ,
ham raadhe kee kirapa se, tumako bhee pa lenge

tum kahate ho mohan, hamen kahaan bithaoge
dil mein to aa jao, ham palakon pe bitha lenge

raasta tere milane ka, ham jaan gae mohan
raadhe jab kah dengee, hamen sarakaar bula lenge



Bhajan Lyrics View All

कोई कहे गोविंदा, कोई गोपाला।
मैं तो कहुँ सांवरिया बाँसुरिया वाला॥
सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
तेरे दर की भीख से है,
मेरा आज तक गुज़ारा
अपनी वाणी में अमृत घोल
अपनी वाणी में अमृत घोल
मुझे चढ़ गया राधा रंग रंग, मुझे चढ़
श्री राधा नाम का रंग रंग, श्री राधा
बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा।
कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
राधे मोरी बंसी कहा खो गयी,
कोई ना बताये और शाम हो गयी,
हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,
ਮੇਰੇ ਕਰਮਾਂ ਵੱਲ ਨਾ ਵੇਖਿਓ ਜੀ,
ਕਰਮਾਂ ਤੋਂ ਸ਼ਾਰਮਾਈ ਹੋਈ ਆਂ
श्यामा तेरे चरणों की गर धूल जो मिल
सच कहता हूँ मेरी तकदीर बदल जाए॥
अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,
मेरी करुणामयी सरकार पता नहीं क्या दे
क्या दे दे भई, क्या दे दे
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
साँवरिया ऐसी तान सुना,
ऐसी तान सुना मेरे मोहन, मैं नाचू तू गा
करदो करदो बेडा पार, राधे अलबेली सरकार।
राधे अलबेली सरकार, राधे अलबेली
दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया ।
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ॥
वृन्दावन के बांके बिहारी,
हमसे पर्दा करो ना मुरारी ।
कोई पकड़ के मेरा हाथ रे,
मोहे वृन्दावन पहुंच देओ ।
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
वो तो दशरथ राज दुलारे हैं
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
मेरी करुणामयी सरकार, मिला दो ठाकुर से
कृपा करो भानु दुलारी, श्री राधे
दुनिया से मैं हारा तो आया तेरे द्वार,
यहाँ से गर जो हरा कहाँ जाऊँगा सरकार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार