Share this page on following platforms.

Home Singers Govind Bhargav ji

Govind bhargave

TERE BAGAIR SAVARIYA JIYA NA JAYE SHRI GOVIND BHARGAVA JI@vipulkrishna

Kanhaiya Le Chal Parli Paar || Govind Bhargav || Superhit Krishna Bhajan || Full Song || 2015

Latest Bhajan Sandhya Kota Part-1 By Govind Bhargava Ji

Tera Kisne Kiya Re Singaar Sanware || GOVIND BHARGAV JI || New Khatu Shyam Bhajan #Saawariya

Radha Rani Hamari Sarkar Fikar Mohe Kahe Ki, Bhajan by Govind Bhargava Ji

Jai pur 4-2-2016 Bhajan Sandhya By Sh. Govind Bhargav Ji

"Kunj Bihari Shyama Shyam" by Shri Govind Bhargav ji at Delhi

"Basaalo Vrindavan Me" by Shri Govind Bhargav ji at Delhi

Contents of this list:

TERE BAGAIR SAVARIYA JIYA NA JAYE SHRI GOVIND BHARGAVA JI@vipulkrishna
Kanhaiya Le Chal Parli Paar || Govind Bhargav || Superhit Krishna Bhajan || Full Song || 2015
Latest Bhajan Sandhya Kota Part-1 By Govind Bhargava Ji
Tera Kisne Kiya Re Singaar Sanware || GOVIND BHARGAV JI || New Khatu Shyam Bhajan #Saawariya
Radha Rani Hamari Sarkar Fikar Mohe Kahe Ki, Bhajan by Govind Bhargava Ji
Jai pur 4-2-2016 Bhajan Sandhya By Sh. Govind Bhargav Ji
Saras Kishori a famous bhajan by Govind Bhargav Ji
tera kisne kiya re singaar sanware
"Kunj Bihari Shyama Shyam" by Shri Govind Bhargav ji at Delhi
"Basaalo Vrindavan Me" by Shri Govind Bhargav ji at Delhi
tera kisne kiya re singaar sanware

Bhajan Lyrics View All

मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
कहना कहना आन पड़ी मैं तेरे द्वार ।
मुझे चाकर समझ निहार ॥
एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
बोल कान्हा बोल गलत काम कैसे हो गया,
बिना शादी के तू राधे श्याम कैसे हो
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया ।
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ॥
श्याम बुलाये राधा नहीं आये,
आजा मेरी प्यारी राधे बागो में झूला
मेरा यार यशुदा कुंवर हो चूका है
वो दिल हो चूका है जिगर हो चूका है
कोई पकड़ के मेरा हाथ रे,
मोहे वृन्दावन पहुंच देओ ।
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
यशोमती मैया से बोले नंदलाला,
राधा क्यूँ गोरी, मैं क्यूँ काला
कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
मुझे चढ़ गया राधा रंग रंग, मुझे चढ़
श्री राधा नाम का रंग रंग, श्री राधा
सारी दुनियां है दीवानी, राधा रानी आप
कौन है, जिस पर नहीं है, मेहरबानी आप की
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
कान्हा की दीवानी बन जाउंगी,
दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी,
करदो करदो बेडा पार, राधे अलबेली सरकार।
राधे अलबेली सरकार, राधे अलबेली
दुनिया से मैं हारा तो आया तेरे द्वार,
यहाँ से गर जो हरा कहाँ जाऊँगा सरकार
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
अपनी वाणी में अमृत घोल
अपनी वाणी में अमृत घोल
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
दुनिया का बन कर देख लिया, श्यामा का बन
राधा नाम में कितनी शक्ति है, इस राह पर
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है
जिनको जिनको सेठ बनाया वो क्या
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ।
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
ये तो बतादो बरसानेवाली,मैं कैसे
तेरी कृपा से है यह जीवन है मेरा,कैसे
इक तारा वाजदा जी हर दम गोविन्द
जग ताने देंदा ए, तै मैनु कोई फरक नहीं