Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

दीवाना हूँ तेरा कहना, दीवाना हूँ तेरा कहना
मुझे जयादा ना तड़पना,

दीवाना हूँ तेरा कहना, दीवाना हूँ तेरा कहना
मुझे जयादा ना तड़पना,

कभी गोकुल में ढुंढू तुझे, वृन्दावन में ढुंढू तुझे ।
नंदगांव में ढुँढू तुझे, गोवर्धन में ढुँढू तुझे ।
ढूंढ आया मैं बरसाना ॥

दीवाना हूँ तेरा कहना...

हर तरह से तुम्हारे हैं हम, आप मानो ना मनो भले ।
तेरे चरणो में निकलेगा दम, आप मानो ना मने भले ।
तुझे पागल क्यों बेगाना ॥
दीवाना हूँ तेरा कहना...

अब तो करदो दया की नज़र, ठोकरे खा रहा दर बेदर ।
एक तुम्हारे इस दर के सिवा, और दुनिया में ना मेरा घर ।
मुझे दर से ना ठुकराना ॥



deewana hun tera kahna diwana hun tera kahna mujhe jayada na tadpana



Bhajan Lyrics View All

ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
तेरे दर की भीख से है,
मेरा आज तक गुज़ारा
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है
श्री राधा हमारी गोरी गोरी, के नवल
यो तो कालो नहीं है मतवारो, जगत उज्य
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
मीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे,
मने कारो कारो जमुनाजी रो पानी लागे
प्रीतम बोलो कब आओगे॥
बालम बोलो कब आओगे॥
रंगीलो राधावल्लभ लाल, जै जै जै श्री
विहरत संग लाडली बाल, जै जै जै श्री
जग में सुन्दर है दो नाम, चाहे कृष्ण
बोलो राम राम राम, बोलो श्याम श्याम
सारी दुनियां है दीवानी, राधा रानी आप
कौन है, जिस पर नहीं है, मेहरबानी आप की
करदो करदो बेडा पार, राधे अलबेली सरकार।
राधे अलबेली सरकार, राधे अलबेली
अपनी वाणी में अमृत घोल
अपनी वाणी में अमृत घोल
ना मैं मीरा ना मैं राधा,
फिर भी श्याम को पाना है ।
अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।
श्यामा प्यारी मेरे साथ हैं,
फिर डरने की क्या बात है
यशोमती मैया से बोले नंदलाला,
राधा क्यूँ गोरी, मैं क्यूँ काला
कहना कहना आन पड़ी मैं तेरे द्वार ।
मुझे चाकर समझ निहार ॥
कोई पकड़ के मेरा हाथ रे,
मोहे वृन्दावन पहुंच देओ ।
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
हे राम, हे राम, हे राम, हे राम
जग में साचे तेरो नाम । हे राम...
राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई