Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

हरे कृष्णा बोल राधे कृष्णा बोल
राधे कृष्णा बोल हरे कृष्णा बोल

हरे कृष्णा बोल राधे कृष्णा बोल
राधे कृष्णा बोल हरे कृष्णा बोल

आओ रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा
राधा रानी दा, मेरी श्यामा प्यारी दा

लावो जी लावो जी राधे शगना दी मेहँदी
मेहँदी दा रंग सूहा लाल, प्यारी राधा रानी दा
रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा

पावो जी पावो राधे शगना दा चूड़ा
चूड़े दा रंग सूहा लाल, प्यारी राधा रानी दा
रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा

पूवो जी पावो राधे लाल लाल लेहंगा
लेहंगा ते जच्दा कमाल, प्यारी राधा रानी दा
रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा

बन्नो जो बन्नो राधे शगना दा गाना
गाने दा रंग सूहा लाल, प्यारी राधा रानी दा
रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा

लावो जी लावो राधे लाल लाल बिंदिया
बिंदी दा रंग सूहा लाल, प्यारी राधा रानी दा
रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा

पावो जी पावो राधे चरना च झांझर
वजदे ही आए नंदलाल, प्यारी राधा रानी दा
रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा

लावो जी लावो राधे फुल्ला दा गजरा
गजरा ते महके कमाल, प्यारी राधा रानी दा
रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा

लाओ जी लाओ राधे नैना विच्च काजल
नैना विच्च सोहे कमाल, प्यारी राधा रानी दा
रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा

लावो जी लावो राधे सोने दा टिक्का
टिक्के च हीरा कमाल, प्यारी राधा रानी दा
रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा

पावो जी पावो राधे कन्ना च झुमके
झुमके ते लटके कमाल, प्यारी राधा रानी दे
रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा

पावो जी पावो राधे नक्क विच नथनी
नथनी दा मोती कमाल, प्यारी राधा रानी दा
रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा

पावो जी पावो राधे नौ लख्खा हार
जिहदे च रतन कमाल, प्यारी राधा रानी दा
रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा

पावो जी पावो राधे सोहनी सोहनी तगड़ी
तगड़ी दा मीणा कमाल, प्यारी राधा रानी दा
रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा

पाओ जी पाओ राधे हत्था विच मुन्द्री
मुन्द्री दे नाग ने कमाल, प्यारी राधा रानी दा
रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा

पावो जी पावो राधे चांदी दे बिछुए
चरना दे दर्शन कमाल, प्यारी राधा रानी दे
रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा

ओडो जी ओडो राधे लाल लाल चुनरी
चुनरी दा गोटा कमाल, प्यारी राधा रानी दा

रलमिल करीये श्रृंगार प्यारी राधा रानी दा

वेखो जी वेखो राधे शीशे च मोहन
हो गया पूरा श्रृंगार, प्यारी राधा रानी दा



aao ral mil kariye shringar radhe rani da



Bhajan Lyrics View All

एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
ज़रा छलके ज़रा छलके वृदावन देखो
ज़रा हटके ज़रा हटके ज़माने से देखो
वृन्दावन के बांके बिहारी,
हमसे पर्दा करो ना मुरारी ।
मीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे,
मने कारो कारो जमुनाजी रो पानी लागे
रंगीलो राधावल्लभ लाल, जै जै जै श्री
विहरत संग लाडली बाल, जै जै जै श्री
राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
Ye Saare Khel Tumhare Hai Jag
Kahta Khel Naseebo Ka
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
वो तो दशरथ राज दुलारे हैं
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
राधे मोरी बंसी कहा खो गयी,
कोई ना बताये और शाम हो गयी,
बोल कान्हा बोल गलत काम कैसे हो गया,
बिना शादी के तू राधे श्याम कैसे हो
सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है
बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा।
सारी दुनियां है दीवानी, राधा रानी आप
कौन है, जिस पर नहीं है, मेहरबानी आप की
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
ਮੇਰੇ ਕਰਮਾਂ ਵੱਲ ਨਾ ਵੇਖਿਓ ਜੀ,
ਕਰਮਾਂ ਤੋਂ ਸ਼ਾਰਮਾਈ ਹੋਈ ਆਂ
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
मन चल वृंदावन धाम, रटेंगे राधे राधे
मिलेंगे कुंज बिहारी, ओढ़ के कांबल
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
सब के संकट दूर करेगी, यह बरसाने वाली,
बजाओ राधा नाम की ताली ।