Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

मैं बालक तू माता, शेरां वालीये,
है अटूट यह नाता, शेरां वालीये

मैं बालक तू माता, शेरां वालीये,
है अटूट यह नाता, शेरां वालीये
शेरां वालीये माँ, पहाडा वालीये माँ,
मेहरा वालीये माँ, ज्योतां वालीये माँ

तेरी ममता, मिली है मुझको, तेरा प्यार मिला है
तेरे आँचल की छाया मे मन का फूल खिला है
तूने बुद्धि तूने साहस तूने ज्ञान दिया
मस्तक उचा कर के जीने का वरदान दिया माँ
तू है भाग्यविदाता, शेरां वालीये
मैं बालक तू माता, शेरां वालीये

जब से दो नैनो मे तेरी पावन ज्योत समायी
मन्दिर मन्दिर तेरी मूरत देने लगी दिखाई
ऊँचे परबत पर मैंने भी डाल दिया है डेरा
निस दिन करे जो तेरी सेवा मै वो दास हूँ तेरा
रहूँ तेरे गुण गाता, शेरां वालीये
मैं बालक तू माता, शेरां वालीये

जय शेरा वाली,  जय भावना वाली



mai baalak tu maata sheraan waaliye



Krishna Bhajans App

Bhajan Lyrics View All

श्री राधा हमारी गोरी गोरी, के नवल
यो तो कालो नहीं है मतवारो, जगत उज्य
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया ।
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ॥
अपनी वाणी में अमृत घोल
अपनी वाणी में अमृत घोल
मुझे चाहिए बस सहारा तुम्हारा,
के नैनों में गोविन्द नज़ारा तुम्हार
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
हे राम, हे राम, हे राम, हे राम
जग में साचे तेरो नाम । हे राम...
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
Ye Saare Khel Tumhare Hai Jag
Kahta Khel Naseebo Ka
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
ज़रा छलके ज़रा छलके वृदावन देखो
ज़रा हटके ज़रा हटके ज़माने से देखो
मीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे,
मने कारो कारो जमुनाजी रो पानी लागे
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
राधे तु कितनी प्यारी है ॥
तेरे संग में बांके बिहारी कृष्ण
बृज के नंदलाला राधा के सांवरिया,
सभी दुःख दूर हुए, जब तेरा नाम लिया।
आँखों को इंतज़ार है सरकार आपका
ना जाने होगा कब हमें दीदार आपका
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
मुझे चढ़ गया राधा रंग रंग, मुझे चढ़
श्री राधा नाम का रंग रंग, श्री राधा
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
वृदावन जाने को जी चाहता है,
राधे राधे गाने को जी चाहता है,
कोई कहे गोविंदा, कोई गोपाला।
मैं तो कहुँ सांवरिया बाँसुरिया वाला॥
वृन्दावन के बांके बिहारी,
हमसे पर्दा करो ना मुरारी ।
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई