Share this page on following platforms.

Home Gurus Sudhanshu ji

Popular Videos - Sudhanshu Ji Maharaj & Sanskar TV

Amrit Vachan - Sudhanshu Ji Maharaj - Episode 1

Amrit Vachan - Sudhanshu Ji Maharaj - Episode 21

SANSKAR LIVE - SHRI SUDHANSHU JI MAHARAJ - SATSANG SAMAROH - CROSS MAIDAN, MUMBAI

Pravachan | Shri Sudhanshu Ji Maharaj | Ep # 33

Sankirtan - Bhala Karo Bhagwan - Sudhanshuji Maharaj

Amrit Vachan - Sudhanshu Ji Maharaj - Episode 6

Pravachan | Shri Sudhanshu Ji Maharaj | Ep # 32

Amrit Vachan - Sudhanshu Ji Maharaj - Episode 20

#Sanskar Live | Shri Sudhanshu Ji Maharaj | Ullhas Parv Mahotsav | New Delhi

Amrit Vachan - Sudhanshu Ji Maharaj - Episode 9

Sankirtan - Har Vishnu Parmam Padam - Shri Sudhanshuji Maharaj 02

Contents of this list:

Amrit Vachan - Sudhanshu Ji Maharaj - Episode 1
Amrit Vachan - Sudhanshu Ji Maharaj - Episode 21
SANSKAR LIVE - SHRI SUDHANSHU JI MAHARAJ - SATSANG SAMAROH - CROSS MAIDAN, MUMBAI
Pravachan | Shri Sudhanshu Ji Maharaj | Ep # 33
Sankirtan - Bhala Karo Bhagwan - Sudhanshuji Maharaj
Amrit Vachan - Sudhanshu Ji Maharaj - Episode 6
Pravachan | Shri Sudhanshu Ji Maharaj | Ep # 32
Amrit Vachan - Sudhanshu Ji Maharaj - Episode 20
#Sanskar Live | Shri Sudhanshu Ji Maharaj | Ullhas Parv Mahotsav | New Delhi
Amrit Vachan - Sudhanshu Ji Maharaj - Episode 9
Sankirtan - Har Vishnu Parmam Padam - Shri Sudhanshuji Maharaj 02

Bhajan Lyrics View All

अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,
जग में सुन्दर है दो नाम, चाहे कृष्ण
बोलो राम राम राम, बोलो श्याम श्याम
श्याम बुलाये राधा नहीं आये,
आजा मेरी प्यारी राधे बागो में झूला
यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है
श्री राधा हमारी गोरी गोरी, के नवल
यो तो कालो नहीं है मतवारो, जगत उज्य
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
श्यामा तेरे चरणों की गर धूल जो मिल
सच कहता हूँ मेरी तकदीर बदल जाए॥
हो मेरी लाडो का नाम श्री राधा
श्री राधा श्री राधा, श्री राधा श्री
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
मेरी करुणामयी सरकार, मिला दो ठाकुर से
कृपा करो भानु दुलारी, श्री राधे
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
दुनिया का बन कर देख लिया, श्यामा का बन
राधा नाम में कितनी शक्ति है, इस राह पर
प्रभु कर कृपा पावँरी दीन्हि
सादर भारत शीश धरी लीन्ही
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
वृंदावन में हुकुम चले बरसाने वाली का,
कान्हा भी दीवाना है श्री श्यामा
कान्हा की दीवानी बन जाउंगी,
दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी,
मेरा आपकी कृपा से,
सब काम हो रहा है
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
मन चल वृंदावन धाम, रटेंगे राधे राधे
मिलेंगे कुंज बिहारी, ओढ़ के कांबल
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
जिनको जिनको सेठ बनाया वो क्या
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ।
तीनो लोकन से न्यारी राधा रानी हमारी।
राधा रानी हमारी, राधा रानी हमारी॥
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
बोल कान्हा बोल गलत काम कैसे हो गया,
बिना शादी के तू राधे श्याम कैसे हो
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को