Share this page on following platforms.

Home Gurus Mridul Krishan ji

1

Lagan Tumse Laga | Shyam Teri Lagan | Jaya Kishori Ji

Ek Nazar Krupa Ki | Shyam Tharo Khatu Pyaro | Jaya Kishori

Mera Aap Ki Kripa Se | Mahara Khatu Ra Shyam | Jaya Kishori Ji

o palan haare

♥ Mujhe charno se laga le ,Mere Shyam Murli wale ♥

Mridul Krishna Shastri - Om Jai Jagdish Hare-Mridul Aarti Vandana,Devotional,Bhakti Song,Aarti

New Bhajan - Mai Toh Sada Teri Bhakti Karu ( मै तो सदा तेरी भक्ति करूँ )- sung by Shri Sureshanandji

Krishna jayanthi at Israel | hare rama hare krishn

AARTI WTH MRIDUL

Radhey Radhey with Mridul krishna shastri ji

Madhurashtakam by Mridul Krishna Shastri ji

Shankar teri jataon se by Mridul Krishna Shastri ji

Mridul Krishna Shastri - Bhakti Song 2016 | Bankey Bihari Ji Ki Aarti | Krishna Arti | Devotional

aao manmohana aao nandnandana by Mridul krishna Shastri ji [original]

Mridul Krishna Shastri - Hanuman Ji Ki Aarti-Mridul Aarti Vandana,Devotional,Bhakti Song

Mridul Krishna Shastri - Jai Shiv Omkara-Mridul Aarti Vandana,Devotional,Bhakti Song,Shankar arti

Jai Jai Radha Ramana Hari Bol

Mridul Krishna Shastri - Ganga Ji Ki Aarti | Badrinath,Kedarnath,Gangotri,Yamnotri -Bhajan, Aarti

Contents of this list:

Lagan Tumse Laga | Shyam Teri Lagan | Jaya Kishori Ji
Ek Nazar Krupa Ki | Shyam Tharo Khatu Pyaro | Jaya Kishori
Mera Aap Ki Kripa Se | Mahara Khatu Ra Shyam | Jaya Kishori Ji
o palan haare
♥ Mujhe charno se laga le ,Mere Shyam Murli wale ♥
Mridul Krishna Shastri - Om Jai Jagdish Hare-Mridul Aarti Vandana,Devotional,Bhakti Song,Aarti
New Bhajan - Mai Toh Sada Teri Bhakti Karu ( मै तो सदा तेरी भक्ति करूँ )- sung by Shri Sureshanandji
Krishna jayanthi at Israel | hare rama hare krishn
AARTI WTH MRIDUL
Radhey Radhey with Mridul krishna shastri ji
Madhurashtakam by Mridul Krishna Shastri ji
Shankar teri jataon se by Mridul Krishna Shastri ji
Mridul Krishna Shastri - Bhakti Song 2016 | Bankey Bihari Ji Ki Aarti | Krishna Arti | Devotional
aao manmohana aao nandnandana by Mridul krishna Shastri ji [original]
Mridul Krishna Shastri - Hanuman Ji Ki Aarti-Mridul Aarti Vandana,Devotional,Bhakti Song
Mridul Krishna Shastri - Jai Shiv Omkara-Mridul Aarti Vandana,Devotional,Bhakti Song,Shankar arti
Jai Jai Radha Ramana Hari Bol
Mridul Krishna Shastri - Ganga Ji Ki Aarti | Badrinath,Kedarnath,Gangotri,Yamnotri -Bhajan, Aarti

Bhajan Lyrics View All

श्यामा तेरे चरणों की गर धूल जो मिल
सच कहता हूँ मेरी तकदीर बदल जाए॥
इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से
गोविन्द नाम लेकर, फिर प्राण तन से
मेरी करुणामयी सरकार पता नहीं क्या दे
क्या दे दे भई, क्या दे दे
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।
राधे मोरी बंसी कहा खो गयी,
कोई ना बताये और शाम हो गयी,
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
श्री राधा हमारी गोरी गोरी, के नवल
यो तो कालो नहीं है मतवारो, जगत उज्य
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
कहना कहना आन पड़ी मैं तेरे द्वार ।
मुझे चाकर समझ निहार ॥
दिल की हर धड़कन से तेरा नाम निकलता है
तेरे दर्शन को मोहन तेरा दास तरसता है
मुझे चाहिए बस सहारा तुम्हारा,
के नैनों में गोविन्द नज़ारा तुम्हार
मेरे जीवन की जुड़ गयी डोर, किशोरी तेरे
किशोरी तेरे चरणन में, महारानी तेरे
तुम रूठे रहो मोहन,
हम तुमको मन लेंगे
दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया ।
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ॥
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
इक तारा वाजदा जी हर दम गोविन्द
जग ताने देंदा ए, तै मैनु कोई फरक नहीं
प्रभु कर कृपा पावँरी दीन्हि
सादर भारत शीश धरी लीन्ही
अपनी वाणी में अमृत घोल
अपनी वाणी में अमृत घोल
मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
करदो करदो बेडा पार, राधे अलबेली सरकार।
राधे अलबेली सरकार, राधे अलबेली
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
मेरा यार यशुदा कुंवर हो चूका है
वो दिल हो चूका है जिगर हो चूका है
कोई कहे गोविंदा, कोई गोपाला।
मैं तो कहुँ सांवरिया बाँसुरिया वाला॥