Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

अब भज राधे राधे राधे ये ही काम आवैंगी - २
काम आवैंगी की भव से पार लगावैंगी - २

अब भज राधे राधे राधे ये ही काम आवैंगी - २
काम आवैंगी की भव से पार लगावैंगी - २
अब भज राधे राधे राधे ये ही काम आवैंगी

श्यामा गोरी, नित्य-किशोरी, प्रीतम-जोरी, श्री राधे ।
प्राण पियारी, रूप-उजारि, अति-सुकुमारी, श्री राधे ।
जय राधे, जय राधे, ब्रजधाम निवासिनी श्री राधे ।
अब भज राधे राधे राधे ये ही काम आवैंगी - २
काम आवैंगी विपति के जाल नसावैंगी - २
अब भज राधे राधे राधे ये ही काम आवैंगी ।

राधे राधे राधे मुझे श्याम से मिला दे - २
श्याम से मिला दे मुझे कृष्ण से मिला दे - २
मिल जाये श्याम वही रस्ता बता दे - २
अब भज राधे राधे राधे ये ही काम आवैंगी - २
काम आवैंगी की तोहे श्याम मिलावैँगी - २
अब भज राधे राधे राधे ये ही काम आवैंगी ।

रमणी-रम्या, तरु-तर-तम्या, गुण-आगम्या श्री राधे - २
कंचन बेली, रति रस रेली, अति-अलबेली, श्री राधे ।
जय राधे, जय राधे, ब्रजधाम निवासिनी श्री राधे - २
अब भज राधे राधे राधे ये ही काम आवैंगी - २
काम आवैंगी विपति के जाल नसावैंगी - २
अब भज राधे राधे राधे ये ही काम आवैंगी ।

भजन गायक - सौरभ मधुकर



ab bhaj Radhe Radhe Radhe ye hi kaam aawengi with Hindi lyrics by Saurabh Madhukar



Bhajan Lyrics View All

अपनी वाणी में अमृत घोल
अपनी वाणी में अमृत घोल
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
ਮੇਰੇ ਕਰਮਾਂ ਵੱਲ ਨਾ ਵੇਖਿਓ ਜੀ,
ਕਰਮਾਂ ਤੋਂ ਸ਼ਾਰਮਾਈ ਹੋਈ ਆਂ
हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ
श्यामा प्यारी मेरे साथ हैं,
फिर डरने की क्या बात है
Ye Saare Khel Tumhare Hai Jag
Kahta Khel Naseebo Ka
ना मैं मीरा ना मैं राधा,
फिर भी श्याम को पाना है ।
कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना
मेरी करुणामयी सरकार पता नहीं क्या दे
क्या दे दे भई, क्या दे दे
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
वृन्दावन के बांके बिहारी,
हमसे पर्दा करो ना मुरारी ।
इक तारा वाजदा जी हर दम गोविन्द
जग ताने देंदा ए, तै मैनु कोई फरक नहीं
कान्हा की दीवानी बन जाउंगी,
दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी,
अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,
तीनो लोकन से न्यारी राधा रानी हमारी।
राधा रानी हमारी, राधा रानी हमारी॥
राधे तु कितनी प्यारी है ॥
तेरे संग में बांके बिहारी कृष्ण
साँवरिया ऐसी तान सुना,
ऐसी तान सुना मेरे मोहन, मैं नाचू तू गा
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
सब के संकट दूर करेगी, यह बरसाने वाली,
बजाओ राधा नाम की ताली ।
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
मेरा आपकी कृपा से,
सब काम हो रहा है
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
सांवरियो है सेठ, म्हारी राधा जी
यह तो जाने दुनिया सारी है
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।
सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है