Share this page on following platforms.

Home Gurus Sri Thakurji

Madhur Bajan By Shri Thakur Ji

Shri Bhagwat Kripa Production

Yug yug jeeve ri yashoda maiya tero lalnaa

Ram naam ke sabun se

Y toh prem ki baat hain

Wah wah re moz fakeera ki

Re man murakh kb tak jag main

Nand lal pyare

Gopi geet

My Slideshow

Radhe bol radhe bol

Radha nache Krishna nache

Paraya dard apnaye use insan kahte hain

Nand mahal gar dotaa jaayo

Na main meera na main radha

Murli baja ke mohna

Mohan hamare madhuvan main aaya na karo

Meri lagi shyam sang preet

Main nahi mera nahi

Krishna kanne se tar jayega

Jise jivan main mila satsang hain

Aduram maduram

Jeeo shyam lala jeeo shyam lala

Jara itna bata de kanaha tera rang kala kyu

Ho gaye bhab se paar le kar naam tera

Hari bhajan bina vishram nahi

Govind mori lagi lagan mat todna

Dukh hi manav ki sampatti hain

Dil pyara hain magar dil pyara tu hain

Braj main hai rahi jai jai kar nand ghar lala

Sant param hitkari

Su swagatam krishna

Shyam teri banshi baje deere deere

Hari ki katha sunane wale

Shri Bhagwat Kripa Production

Contents of this list:

Shri Bhagwat Kripa Production
Yug yug jeeve ri yashoda maiya tero lalnaa
Ram naam ke sabun se
Y toh prem ki baat hain
Wah wah re moz fakeera ki
Re man murakh kb tak jag main
Nand lal pyare
Gopi geet
My Slideshow
Radhe bol radhe bol
Radha nache Krishna nache
Paraya dard apnaye use insan kahte hain
Nand mahal gar dotaa jaayo
Na main meera na main radha
Murli baja ke mohna
Mohan hamare madhuvan main aaya na karo
Meri lagi shyam sang preet
Main nahi mera nahi
Krishna kanne se tar jayega
Jise jivan main mila satsang hain
Aduram maduram
Jeeo shyam lala jeeo shyam lala
Jara itna bata de kanaha tera rang kala kyu
Ho gaye bhab se paar le kar naam tera
Hari bhajan bina vishram nahi
Govind mori lagi lagan mat todna
Dukh hi manav ki sampatti hain
Dil pyara hain magar dil pyara tu hain
Braj main hai rahi jai jai kar nand ghar lala
Sant param hitkari
Su swagatam krishna
Shyam teri banshi baje deere deere
Hari ki katha sunane wale
Shri Bhagwat Kripa Production

Bhajan Lyrics View All

ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
मुझे चाहिए बस सहारा तुम्हारा,
के नैनों में गोविन्द नज़ारा तुम्हार
कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
कहना कहना आन पड़ी मैं तेरे द्वार ।
मुझे चाकर समझ निहार ॥
मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
आँखों को इंतज़ार है सरकार आपका
ना जाने होगा कब हमें दीदार आपका
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा।
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
इक तारा वाजदा जी हर दम गोविन्द
जग ताने देंदा ए, तै मैनु कोई फरक नहीं
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
बोल कान्हा बोल गलत काम कैसे हो गया,
बिना शादी के तू राधे श्याम कैसे हो
अपनी वाणी में अमृत घोल
अपनी वाणी में अमृत घोल
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
ये तो बतादो बरसानेवाली,मैं कैसे
तेरी कृपा से है यह जीवन है मेरा,कैसे
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
साँवरिया ऐसी तान सुना,
ऐसी तान सुना मेरे मोहन, मैं नाचू तू गा
प्रीतम बोलो कब आओगे॥
बालम बोलो कब आओगे॥
सारी दुनियां है दीवानी, राधा रानी आप
कौन है, जिस पर नहीं है, मेहरबानी आप की
श्री राधा हमारी गोरी गोरी, के नवल
यो तो कालो नहीं है मतवारो, जगत उज्य
मेरा आपकी कृपा से,
सब काम हो रहा है