Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

हारे के सहारे आजा, तेरा दास पुकारे आजा,
हम तो खरे तेरे दुआरे, सुंले करूँ पुकार,

हारे के सहारे आजा, तेरा दास पुकारे आजा,
हम तो खरे तेरे दुआरे, सुंले करूँ पुकार,

कोई सुनता नही, मैं सुनाऊ किसे ये बता,
दर्द दिल का भला मैं दिखाओ किसे ये बता,
तेरे होते मेरी हार कैसे होगी सरकार,
एक बार तू धीर धरजा,
हम तो खड़े तेरे दुआरे, सुनले करूँ पुकार
हारे की सहारे आजा, तेरा दास पुकारे आजा,

किया भजन मैं तेरे श्याम गाता नही ये बता,
अपने भजनो से मैं, किया रिझता नही ये बता,
आके तेरे दरवार, करू तेरी ज़ई-जैयकार,
फिर आके मुझे बतलाजा,
हारे की सहारे आजा, तेरा दास पुकारे आजा,
हम तो खरे तेरे दुआरे, सुंले करूँ पुकार

है भरोसा तेरे अब सहारा तेरा सावरे,
तेरे चरणो मैं है अब गुज़रा मेरा सावरे,
तू तो आजा एक बार होके लीले पे सवार
आ मोर च्चरी लहरजा
हारे का सहाराआजा, तेरा दास पुकारे आजा,
हम तो खड़े तेरे दुआरे, सुंले करूँ पुकार



hare ke sahare aaja tera daas pukare aaja



Bhajan Lyrics View All

हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
वो तो दशरथ राज दुलारे हैं
आँखों को इंतज़ार है सरकार आपका
ना जाने होगा कब हमें दीदार आपका
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
हो मेरी लाडो का नाम श्री राधा
श्री राधा श्री राधा, श्री राधा श्री
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
राधे तु कितनी प्यारी है ॥
तेरे संग में बांके बिहारी कृष्ण
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना
तेरे दर की भीख से है,
मेरा आज तक गुज़ारा
ये तो बतादो बरसानेवाली,मैं कैसे
तेरी कृपा से है यह जीवन है मेरा,कैसे
प्रभु कर कृपा पावँरी दीन्हि
सादर भारत शीश धरी लीन्ही
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
सारी दुनियां है दीवानी, राधा रानी आप
कौन है, जिस पर नहीं है, मेहरबानी आप की
राधे मोरी बंसी कहा खो गयी,
कोई ना बताये और शाम हो गयी,
साँवरिया ऐसी तान सुना,
ऐसी तान सुना मेरे मोहन, मैं नाचू तू गा
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
इक तारा वाजदा जी हर दम गोविन्द
जग ताने देंदा ए, तै मैनु कोई फरक नहीं
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
दुनिया का बन कर देख लिया, श्यामा का बन
राधा नाम में कितनी शक्ति है, इस राह पर
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से
गोविन्द नाम लेकर, फिर प्राण तन से
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
कान्हा की दीवानी बन जाउंगी,
दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी,
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।