Share this page on following platforms.

Home Gurus Kirit Bhaiji

Rushivar Kirit Bhaiji

Full Bhagwat Katha - Day 1: Part 1 of 6

Full Bhagwat Katha - Day 1: Part 2 of 6

Full Bhagwat Katha - Day 1: Part 3 of 6

Full Bhagwat Katha - Day 1: Part 4 of 6

Full Bhagwat Katha - Day 1: Part 5 of 6

Full Bhagwat Katha - Day 1: Part 6 of 6

Raas Raseshvar, Vrindvan (2007) part 1- By Rushivarji KIRIT BHAIJI

Raas Raseshvar, vrindavan (2007) Part 2.flv

Raas Raseshvar, Vrindavan (2007) Part 3 - by Rushivarji KIRIT BHAIJI

Raas Raseshva, Vrindavan (2007) part 4 -By Rushivarji Kirit Bhaiji

Raas Raseshvar, vrindavan (2007) Part 2.flv

Raas Raseshvar, vrindavan (2007) Part 2.flv

Contents of this list:

Full Bhagwat Katha - Day 1: Part 1 of 6
Full Bhagwat Katha - Day 1: Part 2 of 6
Full Bhagwat Katha - Day 1: Part 3 of 6
Full Bhagwat Katha - Day 1: Part 4 of 6
Full Bhagwat Katha - Day 1: Part 5 of 6
Full Bhagwat Katha - Day 1: Part 6 of 6
Raas Raseshvar, Vrindvan (2007) part 1- By Rushivarji KIRIT BHAIJI
Raas Raseshvar, vrindavan (2007) Part 2.flv
Raas Raseshvar, Vrindavan (2007) Part 3 - by Rushivarji KIRIT BHAIJI
Raas Raseshva, Vrindavan (2007) part 4 -By Rushivarji Kirit Bhaiji
Raas Raseshvar, vrindavan (2007) Part 2.flv
Raas Raseshvar, vrindavan (2007) Part 2.flv

Bhajan Lyrics View All

सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
एक कोर कृपा की करदो स्वामिनी श्री
दासी की झोली भर दो लाडली श्री राधे॥
हे राम, हे राम, हे राम, हे राम
जग में साचे तेरो नाम । हे राम...
बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा।
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
जग में सुन्दर है दो नाम, चाहे कृष्ण
बोलो राम राम राम, बोलो श्याम श्याम
जय राधे राधे, राधे राधे
जय राधे राधे, राधे राधे
आँखों को इंतज़ार है सरकार आपका
ना जाने होगा कब हमें दीदार आपका
मीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे,
मने कारो कारो जमुनाजी रो पानी लागे
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
करदो करदो बेडा पार, राधे अलबेली सरकार।
राधे अलबेली सरकार, राधे अलबेली
मेरी करुणामयी सरकार पता नहीं क्या दे
क्या दे दे भई, क्या दे दे
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।
मन चल वृंदावन धाम, रटेंगे राधे राधे
मिलेंगे कुंज बिहारी, ओढ़ के कांबल
कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना
श्री राधा हमारी गोरी गोरी, के नवल
यो तो कालो नहीं है मतवारो, जगत उज्य
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
राधे मोरी बंसी कहा खो गयी,
कोई ना बताये और शाम हो गयी,
वृन्दावन के बांके बिहारी,
हमसे पर्दा करो ना मुरारी ।
प्रभु कर कृपा पावँरी दीन्हि
सादर भारत शीश धरी लीन्ही
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई
श्यामा तेरे चरणों की गर धूल जो मिल
सच कहता हूँ मेरी तकदीर बदल जाए॥
Ye Saare Khel Tumhare Hai Jag
Kahta Khel Naseebo Ka
ज़रा छलके ज़रा छलके वृदावन देखो
ज़रा हटके ज़रा हटके ज़माने से देखो
राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥
अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,