Share this page on following platforms.

Home Singers Vinod Agagrwal Ji

Vinod aggarwal

VINOD AGGARWAL JI IN NOIDA-19 MARCH-2012

Har Saans Mein Ho Sumiran Tera by Vinod Agarwal [Krishna Bhajan] I Duniya Kya Jaane

Bhajan Sandhya - Shree Vinod Agarwal (Bhopal, MP)

Mere Dil Mein Rehne Wale by Vinod Agarwal [Krishna Bhajan]

Banke Bhihari De Do Sahara [Full Song] Ram Naam Lije Sada Mauj Kije

Shyam Tere Milne Ka Arman [Full Song] Raadha Rangili Mera Naam

Banwarilal Maharaj [Full Song] Swagamttam Krishna

Radha Raniye Laadli Maa By Vinod Agarwal I Radha Raniye Laadli Maa

Swasan Di Mala

Contents of this list:

VINOD AGGARWAL JI IN NOIDA-19 MARCH-2012
Har Saans Mein Ho Sumiran Tera by Vinod Agarwal [Krishna Bhajan] I Duniya Kya Jaane
Bhajan Sandhya - Shree Vinod Agarwal (Bhopal, MP)
Mere Dil Mein Rehne Wale by Vinod Agarwal [Krishna Bhajan]
Banke Bhihari De Do Sahara [Full Song] Ram Naam Lije Sada Mauj Kije
Shyam Tere Milne Ka Arman [Full Song] Raadha Rangili Mera Naam
Banwarilal Maharaj [Full Song] Swagamttam Krishna
Radha Raniye Laadli Maa By Vinod Agarwal I Radha Raniye Laadli Maa
Swasan Di Mala

Bhajan Lyrics View All

आँखों को इंतज़ार है सरकार आपका
ना जाने होगा कब हमें दीदार आपका
करदो करदो बेडा पार, राधे अलबेली सरकार।
राधे अलबेली सरकार, राधे अलबेली
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
तेरे दर पे आके ज़िन्दगी मेरी
यह तो तेरी नज़र का कमाल है,
कान्हा की दीवानी बन जाउंगी,
दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी,
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
प्रीतम बोलो कब आओगे॥
बालम बोलो कब आओगे॥
वृंदावन में हुकुम चले बरसाने वाली का,
कान्हा भी दीवाना है श्री श्यामा
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
कोई कहे गोविंदा, कोई गोपाला।
मैं तो कहुँ सांवरिया बाँसुरिया वाला॥
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
जिनको जिनको सेठ बनाया वो क्या
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ।
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
मेरा यार यशुदा कुंवर हो चूका है
वो दिल हो चूका है जिगर हो चूका है
वृदावन जाने को जी चाहता है,
राधे राधे गाने को जी चाहता है,
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
हो मेरी लाडो का नाम श्री राधा
श्री राधा श्री राधा, श्री राधा श्री
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
राधे मोरी बंसी कहा खो गयी,
कोई ना बताये और शाम हो गयी,
श्यामा तेरे चरणों की गर धूल जो मिल
सच कहता हूँ मेरी तकदीर बदल जाए॥
तीनो लोकन से न्यारी राधा रानी हमारी।
राधा रानी हमारी, राधा रानी हमारी॥
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
मोहे आन मिलो श्याम, बहुत दिन बीत गए।
बहुत दिन बीत गए, बहुत युग बीत गए ॥