Share this page on following platforms.

Home Singers Hema desai

Narsinh Mehta Bhajans

Lord Krishna - Jal Kamal - Narsinh Mehta - Gujarati Bhajan with translation

Praan thaki - Narsinh Mehta - Gujarati Bhajan

Narsinh Mehta - Akhand Raho Hari Na Haath Ma

Akhil Brahmanda ma ek tu - Karsan Sagathia - Narsinh Mehta poems - Gujarati Bhajans

Lord Krishna - Bholi re Bharavadan - Narsinh Mehta - Hema Desai - Gujarati Bhajan

Jaagi Ne Jovu Narsinh Mehta Bhagat Poem

Jashoda Tara Kanuda ne - Gujarati Bhajan

Narayan nu naam - Karsan Sagathia - Narsinh Mehta - Gujarati Bhajan

Ame mahiyaran re

MARI HUNDI SVIKARO SHAMALA

Nagar Nandji Na Lal - Kunwarbai Nu Mameru

Jag Ne Jadva

PADHO RE POPAT RAJA RAM NA

Contents of this list:

Lord Krishna - Jal Kamal - Narsinh Mehta - Gujarati Bhajan with translation
Praan thaki - Narsinh Mehta - Gujarati Bhajan
Narsinh Mehta - Akhand Raho Hari Na Haath Ma
Akhil Brahmanda ma ek tu - Karsan Sagathia - Narsinh Mehta poems - Gujarati Bhajans
Lord Krishna - Bholi re Bharavadan - Narsinh Mehta - Hema Desai - Gujarati Bhajan
Jaagi Ne Jovu Narsinh Mehta Bhagat Poem
Jashoda Tara Kanuda ne - Gujarati Bhajan
Narayan nu naam - Karsan Sagathia - Narsinh Mehta - Gujarati Bhajan
Ame mahiyaran re
MARI HUNDI SVIKARO SHAMALA
Nagar Nandji Na Lal - Kunwarbai Nu Mameru
Jag Ne Jadva
PADHO RE POPAT RAJA RAM NA

Bhajan Lyrics View All

एक कोर कृपा की करदो स्वामिनी श्री
दासी की झोली भर दो लाडली श्री राधे॥
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।
साँवरिया ऐसी तान सुना,
ऐसी तान सुना मेरे मोहन, मैं नाचू तू गा
दिल की हर धड़कन से तेरा नाम निकलता है
तेरे दर्शन को मोहन तेरा दास तरसता है
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
श्यामा प्यारी मेरे साथ हैं,
फिर डरने की क्या बात है
राधे मोरी बंसी कहा खो गयी,
कोई ना बताये और शाम हो गयी,
प्रभु कर कृपा पावँरी दीन्हि
सादर भारत शीश धरी लीन्ही
बोल कान्हा बोल गलत काम कैसे हो गया,
बिना शादी के तू राधे श्याम कैसे हो
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
श्री राधा हमारी गोरी गोरी, के नवल
यो तो कालो नहीं है मतवारो, जगत उज्य
श्याम बुलाये राधा नहीं आये,
आजा मेरी प्यारी राधे बागो में झूला
कोई कहे गोविंदा, कोई गोपाला।
मैं तो कहुँ सांवरिया बाँसुरिया वाला॥
हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ
मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से
गोविन्द नाम लेकर, फिर प्राण तन से
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
जय राधे राधे, राधे राधे
जय राधे राधे, राधे राधे
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
करदो करदो बेडा पार, राधे अलबेली सरकार।
राधे अलबेली सरकार, राधे अलबेली
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
ਮੇਰੇ ਕਰਮਾਂ ਵੱਲ ਨਾ ਵੇਖਿਓ ਜੀ,
ਕਰਮਾਂ ਤੋਂ ਸ਼ਾਰਮਾਈ ਹੋਈ ਆਂ
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,