Share this page on following platforms.

Home Singers Govind Bhargav ji

Tummerethe

tum hamare the prabhu ji(govind bhargav)

tum hamare the prabhu ji(govind bhargav)

laagi lagan mat todna(govind bhargava)

SHRI GOVIND BHARGAV SINGING BHAJAN IN BRAJ 1

SHRI GOVIND BHARGAV SINGING BHAJAN IN BRAJ2

SHRI GOVIND BHARGAV SINGING BHAJAN IN BRAJ2

"Jai Shri Krishna-Lagan Tumse Laga Baithe, Jo Hoga Dekha Jayega"

Beautiful & Lovely Lord Shri Krishna Devotional Song

banke bihari ji

Hari Ji Mori Laagi Lagan [Full Song] Braj Ras Yamuna

Man Bas Gayo Nand Kishor [Full Song] - Basa Lo Vrindavan Mein

Man Bas Gayo Nand Kishor [Full Song] - Basa Lo Vrindavan Mein

Tere Bagair Sawariya Jiya na Jaye, Bhajan by Shri Govind Bhargava Ji

VINOD AGARWAL 3.1

Har Saans Mein Ho Sumiran Tera by Vinod Agarwal [Krishna Bhajan] I Duniya Kya Jaane

SOHNE MUKHRE DA LAIN DE NAZARA BY SHRI VINOD AGARWAL

radha hamari gori gori (vinod ji) part4

TERE BAGAIR SAVARIYA JIYA NA JAYE SHRI GOVIND BHARGAVA JI@vipulkrishna

mera aapki kripa se, Vinod Agarwal

"Jai Shri Krishna - Gopal Muraliya Wale, Nandlal Muraliya Wale"

Jai Shri Krishna - Mujhe Apni Sharan Mein Le Lo Mere Shyam

Shyaam Hamrahi Ban Ke Rehana By Shri Vinod Aggarwal Part 2

radha hamari gori gori (vinod ji)

Mera Koi Na Sahara ( A Divine Bhajan )

Aaja Aaja re Kanhai Teri Yaad Aayi Part 2

Contents of this list:

tum hamare the prabhu ji(govind bhargav)
tum hamare the prabhu ji(govind bhargav)
laagi lagan mat todna(govind bhargava)
SHRI GOVIND BHARGAV SINGING BHAJAN IN BRAJ 1
SHRI GOVIND BHARGAV SINGING BHAJAN IN BRAJ2
SHRI GOVIND BHARGAV SINGING BHAJAN IN BRAJ2
"Jai Shri Krishna-Lagan Tumse Laga Baithe, Jo Hoga Dekha Jayega"
Beautiful & Lovely Lord Shri Krishna Devotional Song
banke bihari ji
Hari Ji Mori Laagi Lagan [Full Song] Braj Ras Yamuna
Man Bas Gayo Nand Kishor [Full Song] - Basa Lo Vrindavan Mein
Man Bas Gayo Nand Kishor [Full Song] - Basa Lo Vrindavan Mein
Tere Bagair Sawariya Jiya na Jaye, Bhajan by Shri Govind Bhargava Ji
VINOD AGARWAL 3.1
Har Saans Mein Ho Sumiran Tera by Vinod Agarwal [Krishna Bhajan] I Duniya Kya Jaane
Achyutam Keshavam
SOHNE MUKHRE DA LAIN DE NAZARA BY SHRI VINOD AGARWAL
radha hamari gori gori (vinod ji) part4
TERE BAGAIR SAVARIYA JIYA NA JAYE SHRI GOVIND BHARGAVA JI@vipulkrishna
mera aapki kripa se, Vinod Agarwal
"Jai Shri Krishna - Gopal Muraliya Wale, Nandlal Muraliya Wale"
Jai Shri Krishna - Mujhe Apni Sharan Mein Le Lo Mere Shyam
Shyaam Hamrahi Ban Ke Rehana By Shri Vinod Aggarwal Part 2
radha hamari gori gori (vinod ji)
Mera Koi Na Sahara ( A Divine Bhajan )
Aaja Aaja re Kanhai Teri Yaad Aayi Part 2

Bhajan Lyrics View All

अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,
दुनिया से मैं हारा तो आया तेरे द्वार,
यहाँ से गर जो हरा कहाँ जाऊँगा सरकार
ਮੇਰੇ ਕਰਮਾਂ ਵੱਲ ਨਾ ਵੇਖਿਓ ਜੀ,
ਕਰਮਾਂ ਤੋਂ ਸ਼ਾਰਮਾਈ ਹੋਈ ਆਂ
इक तारा वाजदा जी हर दम गोविन्द
जग ताने देंदा ए, तै मैनु कोई फरक नहीं
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
राधे तु कितनी प्यारी है ॥
तेरे संग में बांके बिहारी कृष्ण
श्याम बुलाये राधा नहीं आये,
आजा मेरी प्यारी राधे बागो में झूला
मेरा यार यशुदा कुंवर हो चूका है
वो दिल हो चूका है जिगर हो चूका है
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
ना मैं मीरा ना मैं राधा,
फिर भी श्याम को पाना है ।
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
तुम रूठे रहो मोहन,
हम तुमको मन लेंगे
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
तेरे दर की भीख से है,
मेरा आज तक गुज़ारा
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
वृंदावन में हुकुम चले बरसाने वाली का,
कान्हा भी दीवाना है श्री श्यामा
कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना
कोई पकड़ के मेरा हाथ रे,
मोहे वृन्दावन पहुंच देओ ।
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
मोहे आन मिलो श्याम, बहुत दिन बीत गए।
बहुत दिन बीत गए, बहुत युग बीत गए ॥
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई
ये तो बतादो बरसानेवाली,मैं कैसे
तेरी कृपा से है यह जीवन है मेरा,कैसे
मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है