Share this page on following platforms.

Home Singers Govind Bhargav ji

GOVIND BHARGAVA

Mero Choto So Gopal Kishori Radhe || GOVIND BHARGAV JI || [Full Song] #Saawariya

Holi Bhajan by Govind Bhargava Ji

Aaj Biraj Me Holi Re Bhajan By Govind Bhargav Ji (Delhi)

Yashoda Tere Lala Ne Bhajan By Govind Bhargav Ji (Delhi)

Radha Rani Ke Charan Maharani Ke Charan Bhajan By Govind Bhargav Ji (Delhi)

Kisori Tore Charnana Me Bhajan By Govind Ji Bhargav (Delhi)

Laadli Adbhut Nazara Tere Barsana Me Hai :by Govind Bhargav Ji

Radha Rani Hamari Sarkar Bhi Hai :by Govind Bhargav Ji (Delhi)

Kishori Itna Ki Jo :by Govind Bhargav Ji (Delhi)

Contents of this list:

Mero Choto So Gopal Kishori Radhe || GOVIND BHARGAV JI || [Full Song] #Saawariya
Holi Bhajan by Govind Bhargava Ji
Aaj Biraj Me Holi Re Bhajan By Govind Bhargav Ji (Delhi)
Yashoda Tere Lala Ne Bhajan By Govind Bhargav Ji (Delhi)
Radha Rani Ke Charan Maharani Ke Charan Bhajan By Govind Bhargav Ji (Delhi)
Kisori Tore Charnana Me Bhajan By Govind Ji Bhargav (Delhi)
Laadli Adbhut Nazara Tere Barsana Me Hai :by Govind Bhargav Ji
Radha Rani Hamari Sarkar Bhi Hai :by Govind Bhargav Ji (Delhi)
Kishori Itna Ki Jo :by Govind Bhargav Ji (Delhi)

Bhajan Lyrics View All

मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना
दुनिया से मैं हारा तो आया तेरे द्वार,
यहाँ से गर जो हरा कहाँ जाऊँगा सरकार
जय राधे राधे, राधे राधे
जय राधे राधे, राधे राधे
मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
आँखों को इंतज़ार है सरकार आपका
ना जाने होगा कब हमें दीदार आपका
वृदावन जाने को जी चाहता है,
राधे राधे गाने को जी चाहता है,
दिल की हर धड़कन से तेरा नाम निकलता है
तेरे दर्शन को मोहन तेरा दास तरसता है
तीनो लोकन से न्यारी राधा रानी हमारी।
राधा रानी हमारी, राधा रानी हमारी॥
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
जग में सुन्दर है दो नाम, चाहे कृष्ण
बोलो राम राम राम, बोलो श्याम श्याम
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
मेरी करुणामयी सरकार, मिला दो ठाकुर से
कृपा करो भानु दुलारी, श्री राधे
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
तेरे दर पे आके ज़िन्दगी मेरी
यह तो तेरी नज़र का कमाल है,
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
ਮੇਰੇ ਕਰਮਾਂ ਵੱਲ ਨਾ ਵੇਖਿਓ ਜੀ,
ਕਰਮਾਂ ਤੋਂ ਸ਼ਾਰਮਾਈ ਹੋਈ ਆਂ
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया ।
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ॥
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ