Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

तांसु बिनारती करा हा बारंबार,
सुनो जी सरकार, ख़ातु का राजा मेहेर करो,

तांसु बिनारती करा हा बारंबार,
सुनो जी सरकार, ख़ातु का राजा मेहेर करो,
मेहेर करो जी अब तो देर करो ना थे देर करो,
तांसु बीनती करा हा बारंबार,
सुनो जी सरकार, ख़ातु का राजा मेहेर करो,

था बिन नाथ अनाथ की जी, कुन्न रखे लो टेक,
म्हस्सा थके मोकला जी, तसा तो म्हारे थे ही, एक,
ख़ातु का राजा मेहेर करो,
तांसु बीनती करा हा बारंबार,
सुनो जी सरकार, ख़ातु का राजा मेहेर करो,


जानू हू दरबार ँहे तारे, घनी लगी है भीर,
तारे बिन किस विढ़ मई तेल गयी,
भूल भगत की या पीर,
ख़ातु का राजा मेहेर करो,
तांसु बीनती करा हा बारंबार,
सुनो जी सरकार, ख़ातु का राजा मेहेर करो,

जूजु बीते टेम इते जो जी, च्छुत्ो जावे भीर,
उजलो आवे कलजो जी, उजलो आवे कलजो जी,
नैना सू ताप टपके नीर,
ख़ातु का राजा मेहेर करो,
तांसु बीनती करा हा बारंबार,
सुनो जी सरकार, ख़ातु का राजा मेहेर करो,

साथी म्हारे जिव्ह का थे तसे च्चणी ना,
जानबूझ के मत तरसाओ, जानबूझ के मत तरसाओ,
हिवादे से लेव लिपताए,
ख़ातु का राजा मेहेर करो,
तांसु बीनती करा हा बारंबार,
सुनो जी सरकार, ख़ातु का राजा मेहेर करो,

की लज्जा रखी, गाज को कथोकांत,
सुन्न कर टर देर मत किजो,
श्याम बिहारी ब्रिजचंद,
ख़ातु का राजा मेहेर करो,
तांसु बीनती करा हा बारंबार,
सुनो जी सरकार, ख़ातु का राजा मेहेर करो,

तांसु बिनारती करा हा बारंबार,
सुनो जी सरकार, ख़ातु का राजा मेहेर करो,
मेहेर करो जी अब तो देर करो ना थे देर करो,



thasu binati kara ha barambaar suno ji sarkar khatu ka raja mehar karo



Bhajan Lyrics View All

मुझे चाहिए बस सहारा तुम्हारा,
के नैनों में गोविन्द नज़ारा तुम्हार
सारी दुनियां है दीवानी, राधा रानी आप
कौन है, जिस पर नहीं है, मेहरबानी आप की
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
दिल की हर धड़कन से तेरा नाम निकलता है
तेरे दर्शन को मोहन तेरा दास तरसता है
कहना कहना आन पड़ी मैं तेरे द्वार ।
मुझे चाकर समझ निहार ॥
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
श्यामा प्यारी मेरे साथ हैं,
फिर डरने की क्या बात है
तीनो लोकन से न्यारी राधा रानी हमारी।
राधा रानी हमारी, राधा रानी हमारी॥
अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,
एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
वो तो दशरथ राज दुलारे हैं
जग में सुन्दर है दो नाम, चाहे कृष्ण
बोलो राम राम राम, बोलो श्याम श्याम
मेरी करुणामयी सरकार, मिला दो ठाकुर से
कृपा करो भानु दुलारी, श्री राधे
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
मेरे जीवन की जुड़ गयी डोर, किशोरी तेरे
किशोरी तेरे चरणन में, महारानी तेरे
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
कोई कहे गोविंदा, कोई गोपाला।
मैं तो कहुँ सांवरिया बाँसुरिया वाला॥
बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा।
ये तो बतादो बरसानेवाली,मैं कैसे
तेरी कृपा से है यह जीवन है मेरा,कैसे
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,