Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

तेरा नाम लिया तुझे मान लिया अब कर दो बेडा पार
सुन लो इस दुखिया की पुकार सुन लो इस दुखिया की पुकार

तेरा नाम लिया तुझे मान लिया अब कर दो बेडा पार
सुन लो इस दुखिया की पुकार सुन लो इस दुखिया की पुकार

दुनिया बुरा बतावे मुझको गाली दे नर नार
भवर बीच मेरी नैय्या अटकी कर दे मोहन पार
रे बाबा कर दे मोहन पार
पालन करता दुखड़े हरता तू बाबा कृष्ण मुरार
सुन लो इस दुखिया की पुकार .......

सास मेरी मुझे डायन कहवे नन्द बनावे बात  
सखी सहेली तानने मारे  खाली दोनों हाथ
रे बाबा खाली दोनों हाथ
धीरज धरदे दुखड़े हर दे मेरे बाबा कष्ट हजार
सुन लो इस दुखिया की पुकार ........

ससुर मेरा मुझे बाँझ बतावे घर से काढ़े बाहर
विपत घनी मैं बाबा मोहन आयी तेरे द्वार
रे बाबा आयी तेरे द्वार
झोली भर दे कृपा कर दे तू कर मेरा उद्धार
सुन लो इस दुखिया की पुकार ...........

बाबुल मेरा नाय बुलावे न कोई मेरी बात सुने
दुखिया रोवे तेरे द्वार पाई काया नै दिन रात घुने
रे हाँ काया ने दिन रात घुने
गुणे राम किशन रह सागर मगन करे देविंदर प्रचार
सुन लो इस दुखिया की पुकार ........

भजन गायक  : सुशिल शर्मा
निगरावठी पिलुखवा



tera nam liya tujhe man liya abb kr do beda paar



Krishna Bhajans App

Bhajan Lyrics View All

सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है
इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से
गोविन्द नाम लेकर, फिर प्राण तन से
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
सांवरियो है सेठ, म्हारी राधा जी
यह तो जाने दुनिया सारी है
मेरी करुणामयी सरकार, मिला दो ठाकुर से
कृपा करो भानु दुलारी, श्री राधे
वृन्दावन के बांके बिहारी,
हमसे पर्दा करो ना मुरारी ।
राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,
मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
श्यामा प्यारी मेरे साथ हैं,
फिर डरने की क्या बात है
रंगीलो राधावल्लभ लाल, जै जै जै श्री
विहरत संग लाडली बाल, जै जै जै श्री
बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा।
सब के संकट दूर करेगी, यह बरसाने वाली,
बजाओ राधा नाम की ताली ।
प्रभु कर कृपा पावँरी दीन्हि
सादर भारत शीश धरी लीन्ही
जिनको जिनको सेठ बनाया वो क्या
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ।
तीनो लोकन से न्यारी राधा रानी हमारी।
राधा रानी हमारी, राधा रानी हमारी॥
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया ।
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ॥
दिल की हर धड़कन से तेरा नाम निकलता है
तेरे दर्शन को मोहन तेरा दास तरसता है
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
तेरे दर पे आके ज़िन्दगी मेरी
यह तो तेरी नज़र का कमाल है,
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
वृदावन जाने को जी चाहता है,
राधे राधे गाने को जी चाहता है,
हे राम, हे राम, हे राम, हे राम
जग में साचे तेरो नाम । हे राम...
बृज के नंदलाला राधा के सांवरिया,
सभी दुःख दूर हुए, जब तेरा नाम लिया।