Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

सखी आज तो बधाई बाजे रंग महल में
रंग महल में रंग महल में, रंग महल में बाजे

सखी आज तो बधाई बाजे रंग महल में
रंग महल में रंग महल में, रंग महल में बाजे

कृपा करके श्याम जी आये, रंग महल में
राधा रुक्मण संग लाये, रंग महल में
राधा श्याम की जोड़ी विराजे भक्तो के मन में

देने बधाई प्रभु ब्रह्मा जी आये
संग में सरस्वती मैया को लाये
मैया की वीणा बाजे रे, रंग महल में

देने बधाई प्रभु विष्णु जी आये,
संग में मैया लक्ष्मी को लाये
लक्ष्मी की पायल बाजे रे रंग महल में

देने बधाई शिव शंकर जी आये,
संग में मैया पार्वती जी को लाये
शिवा जी का डमरू बाजे रंग महल में

बहाने भी आयीं, भैया भी आये, रंग महल में
झूम झूम के ख़ुशी मनाए, रंग महल में
जय जैकार गूंजे, रंग महल में

बच्चे भी आये, बूड़े भी आये, रंग महल में
भुआ भी आये, फूफा भी आये, रंग महल में
आज तो बधाई बाजे, रंग महल में...

दूर दूर से भक्त हैं आये रंग महल में,
नाच नाच के खुश मनाये, रंग महल में
राधा कृष्ण की कृपा बरसे, रंग महल में



sakhi aaj to badhai baje rang mahal me



Bhajan Lyrics View All

श्यामा प्यारी मेरे साथ हैं,
फिर डरने की क्या बात है
मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
यशोमती मैया से बोले नंदलाला,
राधा क्यूँ गोरी, मैं क्यूँ काला
कहना कहना आन पड़ी मैं तेरे द्वार ।
मुझे चाकर समझ निहार ॥
वृन्दावन के बांके बिहारी,
हमसे पर्दा करो ना मुरारी ।
तीनो लोकन से न्यारी राधा रानी हमारी।
राधा रानी हमारी, राधा रानी हमारी॥
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
राधे मोरी बंसी कहा खो गयी,
कोई ना बताये और शाम हो गयी,
श्याम बुलाये राधा नहीं आये,
आजा मेरी प्यारी राधे बागो में झूला
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
जय राधे राधे, राधे राधे
जय राधे राधे, राधे राधे
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
आँखों को इंतज़ार है सरकार आपका
ना जाने होगा कब हमें दीदार आपका
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
सांवरियो है सेठ, म्हारी राधा जी
यह तो जाने दुनिया सारी है
ना मैं मीरा ना मैं राधा,
फिर भी श्याम को पाना है ।
मेरी करुणामयी सरकार पता नहीं क्या दे
क्या दे दे भई, क्या दे दे
राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥
सब के संकट दूर करेगी, यह बरसाने वाली,
बजाओ राधा नाम की ताली ।
एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।
कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से