Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

सांवरे सांवरे सांवरे, हम दीवाने तेरे सांवरे
तन मन में मेरे तू बसा सांवरे

सांवरे सांवरे सांवरे, हम दीवाने तेरे सांवरे
तन मन में मेरे तू बसा सांवरे
रग रग में मेरे तू रमा सांवरे
आजा अब तू कहाँ छुप गया सांवरे
बिन तेरे जीना अब...
बिन तेरे जीना मुश्किल हुआ सांवरे
सांवरे सांवरे सांवरे...

मेरे दिल में बसी तेरी बाँकी अदा
पास चरणो के तेरे रहूँ मैं सदा
यह जुदाई तेरी बस है मेरी तज़ा
दूर चरणो से अब...
दूर चरणो से जाऊं कहाँ सांवरे
सांवरे सांवरे सांवरे...

सारी दुनिया से अब तो हारे हम
आ गए श्याम तेरे द्वारे हम
तेरे बिना बेसहारे हम
तेरी चौक्खत पे मिट गए सारे गम
तू मेरा हो गया...
तू मेरा मैं तेरा हो गया सांवरे
सांवरे सांवरे सांवरे...

काम कोई ना अपना जब आया मेरा
तूने बिगड़ा मुकद्दर बनाया मेरा
करते ‘चित्र विचित्र’ शुक्रिया अब तेरा
ऐसा तेरा करम...
ऐसा तेरा करम हो गया सांवरे



saaware saanware saware hun deewane tere saanwre krishna bhajan by Chitra Vichitra



Bhajan Lyrics View All

वृदावन जाने को जी चाहता है,
राधे राधे गाने को जी चाहता है,
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
दुनिया से मैं हारा तो आया तेरे द्वार,
यहाँ से गर जो हरा कहाँ जाऊँगा सरकार
दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया ।
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ॥
कोई पकड़ के मेरा हाथ रे,
मोहे वृन्दावन पहुंच देओ ।
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
मेरा आपकी कृपा से,
सब काम हो रहा है
श्यामा तेरे चरणों की गर धूल जो मिल
सच कहता हूँ मेरी तकदीर बदल जाए॥
मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना
एक कोर कृपा की करदो स्वामिनी श्री
दासी की झोली भर दो लाडली श्री राधे॥
सारी दुनियां है दीवानी, राधा रानी आप
कौन है, जिस पर नहीं है, मेहरबानी आप की
श्याम बुलाये राधा नहीं आये,
आजा मेरी प्यारी राधे बागो में झूला
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।
अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,
जिनको जिनको सेठ बनाया वो क्या
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ।
राधे तु कितनी प्यारी है ॥
तेरे संग में बांके बिहारी कृष्ण
सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है
एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
वृन्दावन के बांके बिहारी,
हमसे पर्दा करो ना मुरारी ।
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई
तुम रूठे रहो मोहन,
हम तुमको मन लेंगे
मोहे आन मिलो श्याम, बहुत दिन बीत गए।
बहुत दिन बीत गए, बहुत युग बीत गए ॥
दुनिया का बन कर देख लिया, श्यामा का बन
राधा नाम में कितनी शक्ति है, इस राह पर
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
तीनो लोकन से न्यारी राधा रानी हमारी।
राधा रानी हमारी, राधा रानी हमारी॥
मीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे,
मने कारो कारो जमुनाजी रो पानी लागे
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना