Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

सांवरे सांवरे सांवरे, हम दीवाने तेरे सांवरे
तन मन में मेरे तू बसा सांवरे

सांवरे सांवरे सांवरे, हम दीवाने तेरे सांवरे
तन मन में मेरे तू बसा सांवरे
रग रग में मेरे तू रमा सांवरे
आजा अब तू कहाँ छुप गया सांवरे
बिन तेरे जीना अब...
बिन तेरे जीना मुश्किल हुआ सांवरे
सांवरे सांवरे सांवरे...

मेरे दिल में बसी तेरी बाँकी अदा
पास चरणो के तेरे रहूँ मैं सदा
यह जुदाई तेरी बस है मेरी तज़ा
दूर चरणो से अब...
दूर चरणो से जाऊं कहाँ सांवरे
सांवरे सांवरे सांवरे...

सारी दुनिया से अब तो हारे हम
आ गए श्याम तेरे द्वारे हम
तेरे बिना बेसहारे हम
तेरी चौक्खत पे मिट गए सारे गम
तू मेरा हो गया...
तू मेरा मैं तेरा हो गया सांवरे
सांवरे सांवरे सांवरे...

काम कोई ना अपना जब आया मेरा
तूने बिगड़ा मुकद्दर बनाया मेरा
करते ‘चित्र विचित्र’ शुक्रिया अब तेरा
ऐसा तेरा करम...
ऐसा तेरा करम हो गया सांवरे



saaware saanware saware hun deewane tere saanwre krishna bhajan by Chitra Vichitra



Bhajan Lyrics View All

वृंदावन में हुकुम चले बरसाने वाली का,
कान्हा भी दीवाना है श्री श्यामा
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
श्री राधा हमारी गोरी गोरी, के नवल
यो तो कालो नहीं है मतवारो, जगत उज्य
रंगीलो राधावल्लभ लाल, जै जै जै श्री
विहरत संग लाडली बाल, जै जै जै श्री
जय राधे राधे, राधे राधे
जय राधे राधे, राधे राधे
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
सांवरियो है सेठ, म्हारी राधा जी
यह तो जाने दुनिया सारी है
कहना कहना आन पड़ी मैं तेरे द्वार ।
मुझे चाकर समझ निहार ॥
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
प्रीतम बोलो कब आओगे॥
बालम बोलो कब आओगे॥
दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया ।
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ॥
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
ज़रा छलके ज़रा छलके वृदावन देखो
ज़रा हटके ज़रा हटके ज़माने से देखो
हो मेरी लाडो का नाम श्री राधा
श्री राधा श्री राधा, श्री राधा श्री
सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है
हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
वो तो दशरथ राज दुलारे हैं
मेरी करुणामयी सरकार, मिला दो ठाकुर से
कृपा करो भानु दुलारी, श्री राधे
मुझे चढ़ गया राधा रंग रंग, मुझे चढ़
श्री राधा नाम का रंग रंग, श्री राधा
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
यशोमती मैया से बोले नंदलाला,
राधा क्यूँ गोरी, मैं क्यूँ काला
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
एक कोर कृपा की करदो स्वामिनी श्री
दासी की झोली भर दो लाडली श्री राधे॥
दुनिया का बन कर देख लिया, श्यामा का बन
राधा नाम में कितनी शक्ति है, इस राह पर
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।
वृदावन जाने को जी चाहता है,
राधे राधे गाने को जी चाहता है,
अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,