Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

सांवरिया थारा नाम हज़ार कैसे लिखूं कुंकु पतरी
कुंकु पतरी रे श्याम प्रेम पतरी

सांवरिया थारा नाम हज़ार कैसे लिखूं कुंकु पतरी
कुंकु पतरी रे श्याम प्रेम पतरी
घनश्याम थारा नाम हज़ार कैसे लिखूं कुंकु पतरी
सांवरिया थारा नाम हज़ार कैसे लिखूं कुंकु पतरी

कोई कहे यशोदा रो, कोई कहे देवकी रो
कोई कहे नन्द जी रो लाल कैसे लिखूं कुंकुं पतरी
सांवरिया थारा नाम हज़ार कैसे लिखूं कुंकु पतरी

कोई कहे गोकुल वारो, कोई कहे मथुरा वारो
कोई कहे द्वारिका रो नाथ कैसे लिखूं कुंकुं पतरी
सांवरिया थारा नाम हज़ार कैसे लिखूं कुंकु पतरी

कोई कहे राधा पति, कोई कहे रुकमणि पति
कोई कहे गोपियाँ रो श्याम, कैसे लिखूं कुंकुं पतरी
सांवरिया थारा नाम हज़ार कैसे लिखूं कुंकु पतरी

कोई कहे माखन चोर, कोई कहे नंदकिशोर
नरसिंग तो करे पुकार कैसे लिखूं कुंकुं पतरी
सांवरिया थारा नाम हज़ार कैसे लिखूं कुंकु पतरी

कोई कहे गइयां वालो, कोई कहे बंशी वालो
कोई कहे मदन गोपाल कैसे लिखूं कुंकुं पतरी



saanvariya thara naam hazaar kaise likhun kunkun patri



Bhajan Lyrics View All

तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
ज़रा छलके ज़रा छलके वृदावन देखो
ज़रा हटके ज़रा हटके ज़माने से देखो
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
राधे तु कितनी प्यारी है ॥
तेरे संग में बांके बिहारी कृष्ण
बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा।
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
Ye Saare Khel Tumhare Hai Jag
Kahta Khel Naseebo Ka
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
अपनी वाणी में अमृत घोल
अपनी वाणी में अमृत घोल
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई
बोल कान्हा बोल गलत काम कैसे हो गया,
बिना शादी के तू राधे श्याम कैसे हो
अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,
वृंदावन में हुकुम चले बरसाने वाली का,
कान्हा भी दीवाना है श्री श्यामा
सब के संकट दूर करेगी, यह बरसाने वाली,
बजाओ राधा नाम की ताली ।
सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है
वृदावन जाने को जी चाहता है,
राधे राधे गाने को जी चाहता है,
साँवरिया ऐसी तान सुना,
ऐसी तान सुना मेरे मोहन, मैं नाचू तू गा
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,
कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
हो मेरी लाडो का नाम श्री राधा
श्री राधा श्री राधा, श्री राधा श्री
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा