Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

राधे राधे गाये जा
गोबिंद को रिझाये जा

राधे राधे गाये जा
गोबिंद को रिझाये जा
गोबिंद को रिझाये जा गोपाल को रिझाये जा

श्री कृष्ण शिरोमणि श्री राधा
जय श्याम संजीवनी श्री राधा
जय रास विलासिनी श्री राधा
नित कुञ्ज निवासिनी राधा
गोबिंद को रिझाये जा गोपाल को रिझाये जा
राधे राधे गाये जा-
गोबिंद को रिझाये जा

वृन्दावन रानी श्री राधा
मोहनमन मानी  श्री राधा
ब्रज चंद्र चकोरी श्री राधा
वृषभानु किशोरी श्री राधा
गोबिंद को रिझाये जा गोपाल को रिझाये जा
राधे राधे गाये जा-
गोबिंद को रिझाये जा

मंगल की मूर्ति श्री राधा
ब्रज जन सुख पूर्ति श्री राधा
जय नख चन्द्रावली श्री राधा
प्रीतम प्रेमवाली श्री राधा
गोबिंद को रिझाये जा गोपाल को रिझाये जा
राधे राधे गाये जा-
गोबिंद को रिझाये जा

गोपाल उपासनी श्री राधा
अति रूप उजारि श्री राधा
नटनागर भामा श्री राधा
परिपूर्ण कामा श्री राधा
गोबिंद को रिझाये जा गोपाल को रिझाये जा
राधे राधे गाये जा-



radhe radhe gaaye ja gobind ko rijhaye ja



Bhajan Lyrics View All

रंगीलो राधावल्लभ लाल, जै जै जै श्री
विहरत संग लाडली बाल, जै जै जै श्री
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
मेरा यार यशुदा कुंवर हो चूका है
वो दिल हो चूका है जिगर हो चूका है
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
दुनिया का बन कर देख लिया, श्यामा का बन
राधा नाम में कितनी शक्ति है, इस राह पर
तेरे दर पे आके ज़िन्दगी मेरी
यह तो तेरी नज़र का कमाल है,
मेरे जीवन की जुड़ गयी डोर, किशोरी तेरे
किशोरी तेरे चरणन में, महारानी तेरे
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।
कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
ना मैं मीरा ना मैं राधा,
फिर भी श्याम को पाना है ।
सब के संकट दूर करेगी, यह बरसाने वाली,
बजाओ राधा नाम की ताली ।
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥
हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ
मुझे चढ़ गया राधा रंग रंग, मुझे चढ़
श्री राधा नाम का रंग रंग, श्री राधा
मोहे आन मिलो श्याम, बहुत दिन बीत गए।
बहुत दिन बीत गए, बहुत युग बीत गए ॥
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
वो तो दशरथ राज दुलारे हैं
साँवरिया ऐसी तान सुना,
ऐसी तान सुना मेरे मोहन, मैं नाचू तू गा
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता