Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

मुरली फुटरी बजाई रे नंदलला
नंद जी के लाला मैं फेरू थारी माला

मुरली फुटरी बजाई रे नंदलला
नंद जी के लाला मैं फेरू थारी माला

थारा मुरली की आवाज़ मैं तो बागा मै सुनी
फुलडा तोड़ ता छोड़ आई रे नंदलाला  

थारा मुरली की आवाज़ म्हे तो पनघट मै सुनी
पानी भरता छोड़ आई रे नंदलाला

थारा मुरली की आवाज़ म्हे तो रसोडा मै सुनी
फ़लका पोवता छोड़ आई रे नंदलाला

थारा मुरली की आवाज़ म्हे तो मंदिर मै सुनी
म्हे तो दौड़ी दौड़ी आई रे नंदलाला

थारा मुरली की आवाज़ म्हे तो महलामे मै सुनी
साजन सुवता छोड़ आई रे नंदलाला

नंदलाला जी म्हारा सावरिया



murali futari bajai re nandlala Rajasthani Marvadi Krishna bhajan



Bhajan Lyrics View All

राधे मोरी बंसी कहा खो गयी,
कोई ना बताये और शाम हो गयी,
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
तेरे दर की भीख से है,
मेरा आज तक गुज़ारा
इक तारा वाजदा जी हर दम गोविन्द
जग ताने देंदा ए, तै मैनु कोई फरक नहीं
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
जय राधे राधे, राधे राधे
जय राधे राधे, राधे राधे
श्यामा तेरे चरणों की गर धूल जो मिल
सच कहता हूँ मेरी तकदीर बदल जाए॥
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
कहना कहना आन पड़ी मैं तेरे द्वार ।
मुझे चाकर समझ निहार ॥
मुझे चढ़ गया राधा रंग रंग, मुझे चढ़
श्री राधा नाम का रंग रंग, श्री राधा
श्री राधा हमारी गोरी गोरी, के नवल
यो तो कालो नहीं है मतवारो, जगत उज्य
करदो करदो बेडा पार, राधे अलबेली सरकार।
राधे अलबेली सरकार, राधे अलबेली
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना
जग में सुन्दर है दो नाम, चाहे कृष्ण
बोलो राम राम राम, बोलो श्याम श्याम
यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
तुम रूठे रहो मोहन,
हम तुमको मन लेंगे
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
मेरे जीवन की जुड़ गयी डोर, किशोरी तेरे
किशोरी तेरे चरणन में, महारानी तेरे
एक कोर कृपा की करदो स्वामिनी श्री
दासी की झोली भर दो लाडली श्री राधे॥
मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से
गोविन्द नाम लेकर, फिर प्राण तन से
श्यामा प्यारी मेरे साथ हैं,
फिर डरने की क्या बात है
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया