Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मे जहा विराजे राधा रानी,
मॅन हटो दुनियादारी से, मॅन हटो दुनियादारी से,

मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मे जहा विराजे राधा रानी,
मॅन हटो दुनियादारी से, मॅन हटो दुनियादारी से,
जहा मिले खरा पानी,

मुझे दुनिया से नही कोई काम, मुझे दुनिया से नही कोई काम,
मई तो रतु राधा राधा नाम, मई तो रतु राधा राधा नाम,
दर्शन करू सुबह शाम, दर्शन करू सुबह शाम,
मेरे मॅन मेी विराजे श्याम दीवानी, जहा विराजे राधा रानी,
मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मे...............

मेरे मॅन मे ना लगे कोई रंग, मेरे मॅन मेी ना लगे कोई रंग,
मई तो राहु संतान के संग, मई तो राहु संतान के संग,
मेरे मॅन मेी बढ़त उमंग, मेरे मॅन मेी बढ़त उमंग,
बरसाना वृीज की राजधानी, जहा विराजे राधा रानी,
मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मे...............

मुझे दुनिया से नही लेना देना, मुझे दुनिया से नही लेना देना,
ये जगत है एक सपना, ये जगत है एक सपना,
यहा कोई नही अपना, यहा कोई नही अपना,
मेरी अपनी ब्रषभान दुलारी, जहा विराजे राधा रानी,
मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मे...............

मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मे जहा विराजे राधा रानी,
मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मेी जहा विराजे राधा रानी,
मॅन हटो दुनियादारी से, मॅन हटो दुनियादारी से,
जहा मिले खरा पानी,



mero mann lagyo barsane mei jaha viraje radha rani



Bhajan Lyrics View All

कोई पकड़ के मेरा हाथ रे,
मोहे वृन्दावन पहुंच देओ ।
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
आँखों को इंतज़ार है सरकार आपका
ना जाने होगा कब हमें दीदार आपका
मेरे जीवन की जुड़ गयी डोर, किशोरी तेरे
किशोरी तेरे चरणन में, महारानी तेरे
मन चल वृंदावन धाम, रटेंगे राधे राधे
मिलेंगे कुंज बिहारी, ओढ़ के कांबल
मेरी करुणामयी सरकार पता नहीं क्या दे
क्या दे दे भई, क्या दे दे
यशोमती मैया से बोले नंदलाला,
राधा क्यूँ गोरी, मैं क्यूँ काला
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है
हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
दुनिया का बन कर देख लिया, श्यामा का बन
राधा नाम में कितनी शक्ति है, इस राह पर
ना मैं मीरा ना मैं राधा,
फिर भी श्याम को पाना है ।
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
श्याम बुलाये राधा नहीं आये,
आजा मेरी प्यारी राधे बागो में झूला
कोई कहे गोविंदा, कोई गोपाला।
मैं तो कहुँ सांवरिया बाँसुरिया वाला॥
हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
वो तो दशरथ राज दुलारे हैं
ये तो बतादो बरसानेवाली,मैं कैसे
तेरी कृपा से है यह जीवन है मेरा,कैसे
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।
तेरे दर की भीख से है,
मेरा आज तक गुज़ारा
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
रंगीलो राधावल्लभ लाल, जै जै जै श्री
विहरत संग लाडली बाल, जै जै जै श्री
ज़रा छलके ज़रा छलके वृदावन देखो
ज़रा हटके ज़रा हटके ज़माने से देखो
वृदावन जाने को जी चाहता है,
राधे राधे गाने को जी चाहता है,
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,