Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मे जहा विराजे राधा रानी,
मॅन हटो दुनियादारी से, मॅन हटो दुनियादारी से,

मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मे जहा विराजे राधा रानी,
मॅन हटो दुनियादारी से, मॅन हटो दुनियादारी से,
जहा मिले खरा पानी,

मुझे दुनिया से नही कोई काम, मुझे दुनिया से नही कोई काम,
मई तो रतु राधा राधा नाम, मई तो रतु राधा राधा नाम,
दर्शन करू सुबह शाम, दर्शन करू सुबह शाम,
मेरे मॅन मेी विराजे श्याम दीवानी, जहा विराजे राधा रानी,
मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मे...............

मेरे मॅन मे ना लगे कोई रंग, मेरे मॅन मेी ना लगे कोई रंग,
मई तो राहु संतान के संग, मई तो राहु संतान के संग,
मेरे मॅन मेी बढ़त उमंग, मेरे मॅन मेी बढ़त उमंग,
बरसाना वृीज की राजधानी, जहा विराजे राधा रानी,
मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मे...............

मुझे दुनिया से नही लेना देना, मुझे दुनिया से नही लेना देना,
ये जगत है एक सपना, ये जगत है एक सपना,
यहा कोई नही अपना, यहा कोई नही अपना,
मेरी अपनी ब्रषभान दुलारी, जहा विराजे राधा रानी,
मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मे...............

मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मे जहा विराजे राधा रानी,
मेरो मॅन लग्यॉ बरसाने मेी जहा विराजे राधा रानी,
मॅन हटो दुनियादारी से, मॅन हटो दुनियादारी से,
जहा मिले खरा पानी,



mero mann lagyo barsane mei jaha viraje radha rani



Krishna Bhajans App

Bhajan Lyrics View All

राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
ये तो बतादो बरसानेवाली,मैं कैसे
तेरी कृपा से है यह जीवन है मेरा,कैसे
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई
यशोमती मैया से बोले नंदलाला,
राधा क्यूँ गोरी, मैं क्यूँ काला
तेरे दर पे आके ज़िन्दगी मेरी
यह तो तेरी नज़र का कमाल है,
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
तेरे दर की भीख से है,
मेरा आज तक गुज़ारा
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
मेरी करुणामयी सरकार, मिला दो ठाकुर से
कृपा करो भानु दुलारी, श्री राधे
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
बृज के नंदलाला राधा के सांवरिया,
सभी दुःख दूर हुए, जब तेरा नाम लिया।
जय राधे राधे, राधे राधे
जय राधे राधे, राधे राधे
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
मेरी करुणामयी सरकार पता नहीं क्या दे
क्या दे दे भई, क्या दे दे
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
श्यामा प्यारी मेरे साथ हैं,
फिर डरने की क्या बात है
हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
वो तो दशरथ राज दुलारे हैं
Ye Saare Khel Tumhare Hai Jag
Kahta Khel Naseebo Ka
ज़रा छलके ज़रा छलके वृदावन देखो
ज़रा हटके ज़रा हटके ज़माने से देखो