Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

मनमोहन मुरलिया वाले बंसुरिया वाले सुना दे बंसुरिया,
मेरे मन में उठी है उमंग रे जरा छु लू सांवरिया

मनमोहन मुरलिया वाले बंसुरिया वाले सुना दे बंसुरिया,
मेरे मन में उठी है उमंग रे जरा छु लू सांवरिया के संग रे,
झुला डाला कदम की ढाली झुलाये राधा प्यारी सुनादे बंसुरिया,
मनमोहन मुरलिया वाले........

मेरे मन में उठी है उमंग रे होली खेलु सांवरिया के संग रे,
वो तो मार गए पिचकारी बिगोई सारी साडी सुनादे बंसुरिया,
मनमोहन मुरलिया वाले........

मेरे मन में उठी उमंग रे जरा नाचू सांवरिया के संग रे,
वो तो नाच रहे बनवारी नचाये राधा प्यारी सुनादे बंसुरिया,
मनमोहन मुरलिया वाले........

मेरे मन में उठी उमंग रे जरा रूठू सांवरिया के संग रे,
वो तो रूठ गये बनवारी मनाये राधा रानी सुनादे बंसुरिया



manmohan muraliya wale bansuriya vale suna de bansuriya



Bhajan Lyrics View All

मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
तीनो लोकन से न्यारी राधा रानी हमारी।
राधा रानी हमारी, राधा रानी हमारी॥
तेरे दर पे आके ज़िन्दगी मेरी
यह तो तेरी नज़र का कमाल है,
वृन्दावन के बांके बिहारी,
हमसे पर्दा करो ना मुरारी ।
दिल की हर धड़कन से तेरा नाम निकलता है
तेरे दर्शन को मोहन तेरा दास तरसता है
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
ज़रा छलके ज़रा छलके वृदावन देखो
ज़रा हटके ज़रा हटके ज़माने से देखो
कोई पकड़ के मेरा हाथ रे,
मोहे वृन्दावन पहुंच देओ ।
हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ
श्यामा प्यारी मेरे साथ हैं,
फिर डरने की क्या बात है
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।
मेरा आपकी कृपा से,
सब काम हो रहा है
वृंदावन में हुकुम चले बरसाने वाली का,
कान्हा भी दीवाना है श्री श्यामा
साँवरिया ऐसी तान सुना,
ऐसी तान सुना मेरे मोहन, मैं नाचू तू गा
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,
वृदावन जाने को जी चाहता है,
राधे राधे गाने को जी चाहता है,
यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है
हे राम, हे राम, हे राम, हे राम
जग में साचे तेरो नाम । हे राम...
कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना
बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा।
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
श्याम बुलाये राधा नहीं आये,
आजा मेरी प्यारी राधे बागो में झूला
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥