Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

कृपा करो, कृपा करो, कृपा करो मोपर श्री राधे
अब तो आई तेरे द्वारे,

कृपा करो, कृपा करो, कृपा करो मोपर श्री राधे
अब तो आई तेरे द्वारे,

रसिक जीवनी तुम हो श्यामा,
ना छोडो मझधार हे श्यामा ।
सखियन प्यारी कुञ्ज विहारिन,
श्याम भाव की सब सुख कारण ।
श्याम रहे निज तेज सवारिन,
कृपा करो, कृपा करो, कृपा करो मोपर श्री राधे ॥

सब बृज की ठकुरानी राधे,
तुम हो मेरी प्राण आधार ।
विपिन सम्पदा सदा किशोरी,
करो सदा नित्त चित्त की चोरी ।
सब गुण खान तद्यपि भोरी,
कृपा करो, कृपा करो, कृपा करो मोपर श्री राधे ॥

श्री राधे बरसाने वारी,
कृष्णा प्रिया अति भोरी भारी ।
हित्त गोपाल की प्राण जीवनी,
तुम तो पलकन डगर बुहारी ।
तुम सब मन की जानन हारी,
कृपा करो, कृपा करो, कृपा करो मोपर श्री राधे ॥

कृपा करो, कृपा करो



kripa karo mopar shree radhe



Krishna Bhajans App

Bhajan Lyrics View All

तुम रूठे रहो मोहन,
हम तुमको मन लेंगे
मेरी करुणामयी सरकार पता नहीं क्या दे
क्या दे दे भई, क्या दे दे
राधे मोरी बंसी कहा खो गयी,
कोई ना बताये और शाम हो गयी,
मोहे आन मिलो श्याम, बहुत दिन बीत गए।
बहुत दिन बीत गए, बहुत युग बीत गए ॥
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
कोई पकड़ के मेरा हाथ रे,
मोहे वृन्दावन पहुंच देओ ।
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
ये तो बतादो बरसानेवाली,मैं कैसे
तेरी कृपा से है यह जीवन है मेरा,कैसे
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
Ye Saare Khel Tumhare Hai Jag
Kahta Khel Naseebo Ka
श्याम बुलाये राधा नहीं आये,
आजा मेरी प्यारी राधे बागो में झूला
एक कोर कृपा की करदो स्वामिनी श्री
दासी की झोली भर दो लाडली श्री राधे॥
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
बृज के नंदलाला राधा के सांवरिया,
सभी दुःख दूर हुए, जब तेरा नाम लिया।
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
वृन्दावन के बांके बिहारी,
हमसे पर्दा करो ना मुरारी ।
कान्हा की दीवानी बन जाउंगी,
दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी,
सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है
राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
करदो करदो बेडा पार, राधे अलबेली सरकार।
राधे अलबेली सरकार, राधे अलबेली
दिल की हर धड़कन से तेरा नाम निकलता है
तेरे दर्शन को मोहन तेरा दास तरसता है
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।