Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

रीझा भरी घडी यह आई, घर घर होई रोशनाई
मात यशोदा लल्ला जाया, सुनंदा ने थाल वजायी

रीझा भरी घडी यह आई, घर घर होई रोशनाई
मात यशोदा लल्ला जाया, सुनंदा ने थाल वजायी

कहना वे असां तेरा जन्मदिन मनावणा
असां नाचना ते तैनू नचावना
मोहना वे असां तेरा जन्मदिन मानवना

वांग भोले दे अलख जगाई ए
मात यशोदा तो बक्शीश पायी ए
नाले तेरा है दर्शन पावना
मोहना वे असां तेरा जन्मदिन मानवना

विच ख़ुशी दे होए मस्ताने
प्रेम तेरे दे बने परवाने
साडा प्यार कदे ना भुलावना
मोहना वे असां तेरा जन्मदिन मानवना

वजदे ढोल ते वज्जे शहनाई
कमल कपिल पूरी आये दोनों भाई
एहना तेरा ही नाम जपावना
मोहना वे असां तेरा जन्मदिन मानवना



kahna ve assa tera janamdin manavna Punjabi Janamashtmi bhajan



Krishna Bhajans App

Bhajan Lyrics View All

राधे तु कितनी प्यारी है ॥
तेरे संग में बांके बिहारी कृष्ण
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
रंगीलो राधावल्लभ लाल, जै जै जै श्री
विहरत संग लाडली बाल, जै जै जै श्री
तीनो लोकन से न्यारी राधा रानी हमारी।
राधा रानी हमारी, राधा रानी हमारी॥
हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
वृंदावन में हुकुम चले बरसाने वाली का,
कान्हा भी दीवाना है श्री श्यामा
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई
जिनको जिनको सेठ बनाया वो क्या
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ।
कोई कहे गोविंदा, कोई गोपाला।
मैं तो कहुँ सांवरिया बाँसुरिया वाला॥
जय राधे राधे, राधे राधे
जय राधे राधे, राधे राधे
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
करदो करदो बेडा पार, राधे अलबेली सरकार।
राधे अलबेली सरकार, राधे अलबेली
ये तो बतादो बरसानेवाली,मैं कैसे
तेरी कृपा से है यह जीवन है मेरा,कैसे
Ye Saare Khel Tumhare Hai Jag
Kahta Khel Naseebo Ka
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
प्रीतम बोलो कब आओगे॥
बालम बोलो कब आओगे॥
सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है
तेरे दर पे आके ज़िन्दगी मेरी
यह तो तेरी नज़र का कमाल है,
मीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे,
मने कारो कारो जमुनाजी रो पानी लागे
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा