Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

जो तू मिटाना चाहे, जीवन की तृष्णा,
सुबह शाम बोल बंदे कृष्णा कृष्णा कृष्णा,

जो तू मिटाना चाहे, जीवन की तृष्णा,
सुबह शाम बोल बंदे कृष्णा कृष्णा कृष्णा,
जो तू मिटाना चाहे, जो तू मिटाना चाहे,
जीवन की तृष्णा,
जो तू मिटाना चाहे, जीवन की तृष्णा,
सुबह शाम बोल बंदे कृष्णा कृष्णा कृष्णा,

कृष्णा नाम पवन पवन कृष्णा नाम प्यारा प्यारा,
जो ना बोले कृष्णा कृशन जाग से वो हरा हरा,
मॅन का माइट अंधियारा,बोल कृष्णा कृष्णा,
सुबह शाम बोल बंदे .............

चाहे अगर उजियारा, बोल कृष्णा कृष्णा कृष्णा
जो तू मिटाना चाहे...........


छ्होर दे भटकना दर दर तोड़ दे अहम का अंधेरा,
भूल जा जगत का वैभव जाग है दुखो का डेरा,
फिरता है मारा मारा,फिरता है मारा मारा,
बोल कृष्णा कृष्णा
फिरता है मारा मारा, बोल कृष्णा कृष्णा,
सुबह शाम बोल बंदे कृष्णा कृष्णा कृष्णा..........


जो तू मिटाना चाहे, जो तू मिटाना चाहे,
जीवन की तृष्णा,
जो तू मिटाना चाहे, जीवन की तृष्णा,
सुबह शाम बोल बंदे कृष्णा कृष्णा कृष्णा,
जो तू मिटाना चाहे, जो तू मिटाना चाहे,



jo tu mitana chahe jiwan ki trishana subhas sham bol bande krishana krishana krishana



Bhajan Lyrics View All

वृदावन जाने को जी चाहता है,
राधे राधे गाने को जी चाहता है,
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।
इक तारा वाजदा जी हर दम गोविन्द
जग ताने देंदा ए, तै मैनु कोई फरक नहीं
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
दुनिया का बन कर देख लिया, श्यामा का बन
राधा नाम में कितनी शक्ति है, इस राह पर
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
मुझे चाहिए बस सहारा तुम्हारा,
के नैनों में गोविन्द नज़ारा तुम्हार
अपनी वाणी में अमृत घोल
अपनी वाणी में अमृत घोल
जय राधे राधे, राधे राधे
जय राधे राधे, राधे राधे
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
तेरे दर पे आके ज़िन्दगी मेरी
यह तो तेरी नज़र का कमाल है,
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ
यशोमती मैया से बोले नंदलाला,
राधा क्यूँ गोरी, मैं क्यूँ काला
कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
बोल कान्हा बोल गलत काम कैसे हो गया,
बिना शादी के तू राधे श्याम कैसे हो
ज़रा छलके ज़रा छलके वृदावन देखो
ज़रा हटके ज़रा हटके ज़माने से देखो
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
प्रीतम बोलो कब आओगे॥
बालम बोलो कब आओगे॥
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
मुझे चढ़ गया राधा रंग रंग, मुझे चढ़
श्री राधा नाम का रंग रंग, श्री राधा
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
मेरे जीवन की जुड़ गयी डोर, किशोरी तेरे
किशोरी तेरे चरणन में, महारानी तेरे