Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

जो तू मिटाना चाहे, जीवन की तृष्णा,
सुबह शाम बोल बंदे कृष्णा कृष्णा कृष्णा,

जो तू मिटाना चाहे, जीवन की तृष्णा,
सुबह शाम बोल बंदे कृष्णा कृष्णा कृष्णा,
जो तू मिटाना चाहे, जो तू मिटाना चाहे,
जीवन की तृष्णा,
जो तू मिटाना चाहे, जीवन की तृष्णा,
सुबह शाम बोल बंदे कृष्णा कृष्णा कृष्णा,

कृष्णा नाम पवन पवन कृष्णा नाम प्यारा प्यारा,
जो ना बोले कृष्णा कृशन जाग से वो हरा हरा,
मॅन का माइट अंधियारा,बोल कृष्णा कृष्णा,
सुबह शाम बोल बंदे .............

चाहे अगर उजियारा, बोल कृष्णा कृष्णा कृष्णा
जो तू मिटाना चाहे...........


छ्होर दे भटकना दर दर तोड़ दे अहम का अंधेरा,
भूल जा जगत का वैभव जाग है दुखो का डेरा,
फिरता है मारा मारा,फिरता है मारा मारा,
बोल कृष्णा कृष्णा
फिरता है मारा मारा, बोल कृष्णा कृष्णा,
सुबह शाम बोल बंदे कृष्णा कृष्णा कृष्णा..........


जो तू मिटाना चाहे, जो तू मिटाना चाहे,
जीवन की तृष्णा,
जो तू मिटाना चाहे, जीवन की तृष्णा,
सुबह शाम बोल बंदे कृष्णा कृष्णा कृष्णा,
जो तू मिटाना चाहे, जो तू मिटाना चाहे,



jo tu mitana chahe jiwan ki trishana subhas sham bol bande krishana krishana krishana



Bhajan Lyrics View All

जग में सुन्दर है दो नाम, चाहे कृष्ण
बोलो राम राम राम, बोलो श्याम श्याम
अपनी वाणी में अमृत घोल
अपनी वाणी में अमृत घोल
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
मेरी करुणामयी सरकार, मिला दो ठाकुर से
कृपा करो भानु दुलारी, श्री राधे
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है
जिनको जिनको सेठ बनाया वो क्या
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ।
Ye Saare Khel Tumhare Hai Jag
Kahta Khel Naseebo Ka
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
तुम रूठे रहो मोहन,
हम तुमको मन लेंगे
श्यामा प्यारी मेरे साथ हैं,
फिर डरने की क्या बात है
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
दिल की हर धड़कन से तेरा नाम निकलता है
तेरे दर्शन को मोहन तेरा दास तरसता है
मेरा यार यशुदा कुंवर हो चूका है
वो दिल हो चूका है जिगर हो चूका है
करदो करदो बेडा पार, राधे अलबेली सरकार।
राधे अलबेली सरकार, राधे अलबेली
यशोमती मैया से बोले नंदलाला,
राधा क्यूँ गोरी, मैं क्यूँ काला
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
मेरे जीवन की जुड़ गयी डोर, किशोरी तेरे
किशोरी तेरे चरणन में, महारानी तेरे
दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया ।
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ॥
वृदावन जाने को जी चाहता है,
राधे राधे गाने को जी चाहता है,
एक कोर कृपा की करदो स्वामिनी श्री
दासी की झोली भर दो लाडली श्री राधे॥
मोहे आन मिलो श्याम, बहुत दिन बीत गए।
बहुत दिन बीत गए, बहुत युग बीत गए ॥
इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से
गोविन्द नाम लेकर, फिर प्राण तन से
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,