Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

जरा तारों से तारे मिलाके तो देख,
ज़रा मोहन को दिल से बुला के तो देख,

जरा तारों से तारे मिलाके तो देख,
ज़रा मोहन को दिल से बुला के तो देख,
प्रभु खिचे हुए बंधे हुए चले आयेंगे ।

पाया धन्ना ने पत्थर को प्रभु मान कर ।
पाया मीरा ने विष का अमर पान कर ॥
पाया केवट ने धो धो चरण धुल को ।
उन्ही चरणों में मस्तक झुका के तो देख,
प्रभु खिचे हुए बंधे हुए चले आयेंगे ॥


पाया जिस ने भी उसको मिला प्रेम धाम ।
तारे पत्थर लिखा जिनपे रघुवर का नाम ॥
तेरी नैया किनारे से क्यूं ना लगे ।
नाम उनका तू दिल पे लिखा के तो देख,
प्रभु खिचे हुए बंधे हुए चले आयेंगे ॥

वो है ठाकुर पुजारी तू बन के तो देख ।
वो हैं दाता भिखारी तू बन के तो देख ॥
उनके दर से नहीं कोई खाली गया।
उनके आगे तू झोली फैला के तो देख,



jara taro se tare mile kae to dekh prabhu khiche huye bandhe huye chale aayenge



Krishna Bhajans App

Bhajan Lyrics View All

नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
श्री राधा हमारी गोरी गोरी, के नवल
यो तो कालो नहीं है मतवारो, जगत उज्य
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
मुझे चाहिए बस सहारा तुम्हारा,
के नैनों में गोविन्द नज़ारा तुम्हार
अपनी वाणी में अमृत घोल
अपनी वाणी में अमृत घोल
श्याम बुलाये राधा नहीं आये,
आजा मेरी प्यारी राधे बागो में झूला
हो मेरी लाडो का नाम श्री राधा
श्री राधा श्री राधा, श्री राधा श्री
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
ये तो बतादो बरसानेवाली,मैं कैसे
तेरी कृपा से है यह जीवन है मेरा,कैसे
सारी दुनियां है दीवानी, राधा रानी आप
कौन है, जिस पर नहीं है, मेहरबानी आप की
दिल की हर धड़कन से तेरा नाम निकलता है
तेरे दर्शन को मोहन तेरा दास तरसता है
कोई कहे गोविंदा, कोई गोपाला।
मैं तो कहुँ सांवरिया बाँसुरिया वाला॥
मेरे जीवन की जुड़ गयी डोर, किशोरी तेरे
किशोरी तेरे चरणन में, महारानी तेरे
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
Ye Saare Khel Tumhare Hai Jag
Kahta Khel Naseebo Ka
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
श्यामा प्यारी मेरे साथ हैं,
फिर डरने की क्या बात है
सब के संकट दूर करेगी, यह बरसाने वाली,
बजाओ राधा नाम की ताली ।
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
ना मैं मीरा ना मैं राधा,
फिर भी श्याम को पाना है ।
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
आँखों को इंतज़ार है सरकार आपका
ना जाने होगा कब हमें दीदार आपका