Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां
मेरे सतगुरु दीन दयाला

चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां
मेरे सतगुरु दीन दयाला

कुर्बान जाऊं उस वेला सुहावा
जित तुम्हरे द्वारे आया
चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां
मेरे सतगुरु दीन दयाला

पार ब्रह्मा परमेश्वर सतगुरु
आपे कर नेहारा
चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां
मेरे सतगुरु दीन दयाला

चरण धूल तेरे सेवक मांगे
तेरे दर्शन को बलेहारा
चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां  
मेरे सतगुरु दीन दयाला

मेरे राम राये
ज्यों राखे,त्यों रहिये
तुद पावे ता नाम जपांवे
सुख तेरा देता लहिए
चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां  
मेरे सतगुरु दीन दयाला

तहाँ बैकुंठ जहाँ कीर्तन तेरा
तू आपे सारधा लावे
चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां  
मेरे सतगुरु दीन दयाला

मुकत भुगत जुगत तेरी सेवा
जिसे तू आप करावे
चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां  
मेरे सतगुरु दीन दयाला

सिमर सिमर सिमर नाम
जिव्हा मेरो तनमन होए निहाला
चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां  
मेरे सतगुरु दीन दयाला

नानक कहे प्रभ भज किरपाल
सतगुरु पूरा पाया
चरण कमल तेरे धोए धोए पीवां  
मेरे सतगुरु दीन दयाला



charan kamal tere dhoye dhoye peevan mere satguru deen dayala radhaswami satsang



Bhajan Lyrics View All

हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
राधे तु कितनी प्यारी है ॥
तेरे संग में बांके बिहारी कृष्ण
बोल कान्हा बोल गलत काम कैसे हो गया,
बिना शादी के तू राधे श्याम कैसे हो
ये तो बतादो बरसानेवाली,मैं कैसे
तेरी कृपा से है यह जीवन है मेरा,कैसे
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना
साँवरिया ऐसी तान सुना,
ऐसी तान सुना मेरे मोहन, मैं नाचू तू गा
इक तारा वाजदा जी हर दम गोविन्द
जग ताने देंदा ए, तै मैनु कोई फरक नहीं
प्रभु कर कृपा पावँरी दीन्हि
सादर भारत शीश धरी लीन्ही
मेरा आपकी कृपा से,
सब काम हो रहा है
सांवरियो है सेठ, म्हारी राधा जी
यह तो जाने दुनिया सारी है
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,
सब के संकट दूर करेगी, यह बरसाने वाली,
बजाओ राधा नाम की ताली ।
सारी दुनियां है दीवानी, राधा रानी आप
कौन है, जिस पर नहीं है, मेहरबानी आप की
मीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे,
मने कारो कारो जमुनाजी रो पानी लागे
मेरी करुणामयी सरकार पता नहीं क्या दे
क्या दे दे भई, क्या दे दे
राधे मोरी बंसी कहा खो गयी,
कोई ना बताये और शाम हो गयी,
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
कहना कहना आन पड़ी मैं तेरे द्वार ।
मुझे चाकर समझ निहार ॥
कान्हा की दीवानी बन जाउंगी,
दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी,
राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
हो मेरी लाडो का नाम श्री राधा
श्री राधा श्री राधा, श्री राधा श्री
सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है
एक कोर कृपा की करदो स्वामिनी श्री
दासी की झोली भर दो लाडली श्री राधे॥