Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

कर दो नाम दीवाना जी, अब कर दो नाम दीवाना,
मैं ताकू शब्द निशाना, मैं ताकू शब्द निशाना ।

कर दो नाम दीवाना जी, अब कर दो नाम दीवाना,
मैं ताकू शब्द निशाना, मैं ताकू शब्द निशाना ।

मांगू एक गुरु से दाना,
घट शब्द देयो पहचाना,
घट शब्द देयो पहचाना जी,अब कर दो नाम दीवाना ।

मन साथ सदा परवाना,
कर किरपा करम छड़ना ,
कर किरपा करम छड़ना जी,अब कर दो नाम दीवाना ।

सूरत चढ़े सुने धुन ताना,
मन मारो करो निशाना,
मन मारो करम निशाना जी,अब कर दो नाम दीवाना,

सब छूटे बाण कमाना,
सत-शब्द मिले ढृढ़ ताना,
सत-शब्द मिले ढृढ़ ताना जी,अब कर दो नाम दीवाना,

कोई करे ना मेरी हाना,
मोहे तुम पर बल-बल जाना,
मोहे तुम पर बल-बल जाना जी,अब कर दो नाम दीवाना ।

कल धारा मुझे ना बहाना,
मुझे देना शब्द ठिकाना,
मुझे देना शब्द ठिकाना जी,अब कर दो नाम दीवाना ।

मन हो गया बोहोत निमाणा,
अब राधास्वामी चरण समाना,
अब राधास्वामी चरण समाना जी,अब कर दो नाम दीवाना ।

कर दो नाम दीवाना जी,अब कर दो नाम दीवाना,
मैं ताकू शब्द निशाना,मैं ताकू शब्द निशाना ।



ab kar do naam diwana ji Radhaswami bhajan



Bhajan Lyrics View All

नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
दिल की हर धड़कन से तेरा नाम निकलता है
तेरे दर्शन को मोहन तेरा दास तरसता है
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
मुझे चढ़ गया राधा रंग रंग, मुझे चढ़
श्री राधा नाम का रंग रंग, श्री राधा
कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
तुम रूठे रहो मोहन,
हम तुमको मन लेंगे
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
कोई पकड़ के मेरा हाथ रे,
मोहे वृन्दावन पहुंच देओ ।
सांवरियो है सेठ, म्हारी राधा जी
यह तो जाने दुनिया सारी है
वृदावन जाने को जी चाहता है,
राधे राधे गाने को जी चाहता है,
ज़रा छलके ज़रा छलके वृदावन देखो
ज़रा हटके ज़रा हटके ज़माने से देखो
ये तो बतादो बरसानेवाली,मैं कैसे
तेरी कृपा से है यह जीवन है मेरा,कैसे
प्रीतम बोलो कब आओगे॥
बालम बोलो कब आओगे॥
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
श्यामा तेरे चरणों की गर धूल जो मिल
सच कहता हूँ मेरी तकदीर बदल जाए॥
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
दुनिया से मैं हारा तो आया तेरे द्वार,
यहाँ से गर जो हरा कहाँ जाऊँगा सरकार
सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है
हे राम, हे राम, हे राम, हे राम
जग में साचे तेरो नाम । हे राम...
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
करदो करदो बेडा पार, राधे अलबेली सरकार।
राधे अलबेली सरकार, राधे अलबेली
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,
सब के संकट दूर करेगी, यह बरसाने वाली,
बजाओ राधा नाम की ताली ।