Share this page on following platforms.
Download Bhajan as .txt File Download Bhajan as IMAGE File

आप मेरे घर में आये प्रभु,
हर लिए तूने दुःख सारे प्रभु ।

आप मेरे घर में आये प्रभु,
हर लिए तूने दुःख सारे प्रभु ।
तू ही राधा तू ही है श्याम,
गुण मैं गाउँ तेरे सुबहो श्याम ॥

तेरा ही चर्चा तेर ही नाम,
तू ही बनाये सब के बिगड़े काम ।
तू ही है सबका पालन हार,
गुण मैं गाउँ तेरे सुबहो श्याम ॥

मैंने है अब बस तुझको ही माना,
चाहे कुछ भी कहे यह ज़माना ।
तुझको है सारे वेदों का ग्यान,
गुण मैं गाउँ तेरे सुबहो श्याम ॥

तेरे ही दर पे जो भी आया,
सब का बेडा पर कराया ।
तेरी ही लीला है अपरम पार,
गुण मैं गाउँ तेरे सुबहो श्याम ॥

तीन पग में तूने सृष्टि को नपाया,
अर्जुन को सही मार्ग दिखाया
महाभारत में दिया गीता का ज्ञान,।
गुण मैं गाउँ तेरे सुबहो श्याम ॥

माखन चोर के सब को रुलाया,
मटकी फोड़ सखियो को सताया ।
कंस को मार किया तूने बड़ा काम,
गुण मैं गाउँ तेरे सुबहो श्याम ॥

कालिया नाग के अहंकार को मिटाया,
पर्वत को इक उंगली पर उठाया ।
तूने ही किया रासलीला का काम,
गुण मैं गाउँ तेरे सुबहो श्याम ॥



aap mere ghar me aaye prabhu har liye tune dukh saare prabhu



Bhajan Lyrics View All

मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
बोल कान्हा बोल गलत काम कैसे हो गया,
बिना शादी के तू राधे श्याम कैसे हो
ये तो बतादो बरसानेवाली,मैं कैसे
तेरी कृपा से है यह जीवन है मेरा,कैसे
श्यामा तेरे चरणों की गर धूल जो मिल
सच कहता हूँ मेरी तकदीर बदल जाए॥
तेरे दर की भीख से है,
मेरा आज तक गुज़ारा
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
मुझे चढ़ गया राधा रंग रंग, मुझे चढ़
श्री राधा नाम का रंग रंग, श्री राधा
मन चल वृंदावन धाम, रटेंगे राधे राधे
मिलेंगे कुंज बिहारी, ओढ़ के कांबल
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
सब के संकट दूर करेगी, यह बरसाने वाली,
बजाओ राधा नाम की ताली ।
श्याम बुलाये राधा नहीं आये,
आजा मेरी प्यारी राधे बागो में झूला
मेरी करुणामयी सरकार, मिला दो ठाकुर से
कृपा करो भानु दुलारी, श्री राधे
जय राधे राधे, राधे राधे
जय राधे राधे, राधे राधे
मेरा यार यशुदा कुंवर हो चूका है
वो दिल हो चूका है जिगर हो चूका है
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है
वृंदावन में हुकुम चले बरसाने वाली का,
कान्हा भी दीवाना है श्री श्यामा
श्री राधा हमारी गोरी गोरी, के नवल
यो तो कालो नहीं है मतवारो, जगत उज्य
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
रंगीलो राधावल्लभ लाल, जै जै जै श्री
विहरत संग लाडली बाल, जै जै जै श्री
यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है
श्यामा प्यारी मेरे साथ हैं,
फिर डरने की क्या बात है