Share this page on following platforms.

Home Katha Nani Bai Ro Mayro

nani bai ro mayro

Nani Bai Ro Mayro - Part 1

Nani Bai Ro Mayro - Part 2

Nani Bai Ro Mayro - Part 3

Nani Bai Ro Mayro - Part 7

Nani Bai Ro Mayro - Part 8

Nani Bai Ro Mayro - Part 8

NaniBai Ro Mairo - Part 11

NaniBai Ro Mairo - Part 5

NaniBai Ro Mairo - Part 5

NaniBai Ro Mairo - Part 12

SANSKAR LIVE - RADHASWARUPA JAYA KISHORIJI - NANI BAI RO MAYARO - HARYANA - DAY 2

Contents of this list:

Nani Bai Ro Mayro - Part 1
Nani Bai Ro Mayro - Part 2
Nani Bai Ro Mayro - Part 3
Nani Bai Ro Mayro - Part 7
Nani Bai Ro Mayro - Part 8
Nani Bai Ro Mayro - Part 8
NaniBai Ro Mairo - Part 11
NaniBai Ro Mairo - Part 5
NaniBai Ro Mairo - Part 5
NaniBai Ro Mairo - Part 12
SANSKAR LIVE - RADHASWARUPA JAYA KISHORIJI - NANI BAI RO MAYARO - HARYANA - DAY 2

Bhajan Lyrics View All

ज़रा छलके ज़रा छलके वृदावन देखो
ज़रा हटके ज़रा हटके ज़माने से देखो
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
दिल की हर धड़कन से तेरा नाम निकलता है
तेरे दर्शन को मोहन तेरा दास तरसता है
दुनिया का बन कर देख लिया, श्यामा का बन
राधा नाम में कितनी शक्ति है, इस राह पर
मन चल वृंदावन धाम, रटेंगे राधे राधे
मिलेंगे कुंज बिहारी, ओढ़ के कांबल
सांवरियो है सेठ, म्हारी राधा जी
यह तो जाने दुनिया सारी है
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है
अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
मेरे जीवन की जुड़ गयी डोर, किशोरी तेरे
किशोरी तेरे चरणन में, महारानी तेरे
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
सब के संकट दूर करेगी, यह बरसाने वाली,
बजाओ राधा नाम की ताली ।
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
तेरे दर की भीख से है,
मेरा आज तक गुज़ारा
हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
वो तो दशरथ राज दुलारे हैं
जय राधे राधे, राधे राधे
जय राधे राधे, राधे राधे
मुझे चढ़ गया राधा रंग रंग, मुझे चढ़
श्री राधा नाम का रंग रंग, श्री राधा
ना मैं मीरा ना मैं राधा,
फिर भी श्याम को पाना है ।
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना
कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये