Share this page on following platforms.

Home Katha Nani Bai Ro Mayro

नानी बाई रो मायरो

Nani Bai Ro Mayro Vol 1 {Hit & Top Krishan Bhajan In 2013 || Jaya Kishori Ji}

Radhe Krishna Radhe Krishna Krishna Krishna Radhe Radhe by Jaya Kishori ji

Comedy by shakil from india TV showing that he pattan

Raksha Full Hindi Movie I Jeetendra I Pravin Babi 1981

Raksha Full Hindi Movie I Jeetendra I Pravin Babi 1981

Hasya Kavita : 'Ghalib Darasal Hindu The' by 'Majaal'

GOPI GEET By PP Rameshbhaiji Oza

Contents of this list:

Nani Bai Ro Mayro Vol 1 {Hit & Top Krishan Bhajan In 2013 || Jaya Kishori Ji}
Radhe Krishna Radhe Krishna Krishna Krishna Radhe Radhe by Jaya Kishori ji
Comedy by shakil from india TV showing that he pattan
Raksha Full Hindi Movie I Jeetendra I Pravin Babi 1981
Raksha Full Hindi Movie I Jeetendra I Pravin Babi 1981
Hasya Kavita : 'Ghalib Darasal Hindu The' by 'Majaal'
Rameshbhai Oza - Dena Ho To Dijeyee janam Janam
Private video
GOPI GEET By PP Rameshbhaiji Oza
Satyamev Jayate - Does Healthcare Need Healing? - 27th May 2012
Satyamev Jayate - Does Healthcare Need Healing? - 27th May 2012
Satyamev Jayate - Does Healthcare Need Healing? - 27th May 2012
Satyamev Jayate - Does Healthcare Need Healing? - 27th May 2012

Bhajan Lyrics View All

नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
हे राम, हे राम, हे राम, हे राम
जग में साचे तेरो नाम । हे राम...
एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
दुनिया से मैं हारा तो आया तेरे द्वार,
यहाँ से गर जो हरा कहाँ जाऊँगा सरकार
मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना
सावरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है ।
सारे दुःख दूर हुए, दिल बना दीवाना है ।
तुम रूठे रहो मोहन,
हम तुमको मन लेंगे
रंगीलो राधावल्लभ लाल, जै जै जै श्री
विहरत संग लाडली बाल, जै जै जै श्री
तेरे दर की भीख से है,
मेरा आज तक गुज़ारा
वृदावन जाने को जी चाहता है,
राधे राधे गाने को जी चाहता है,
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
वो तो दशरथ राज दुलारे हैं
यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
कहना कहना आन पड़ी मैं तेरे द्वार ।
मुझे चाकर समझ निहार ॥
इक तारा वाजदा जी हर दम गोविन्द
जग ताने देंदा ए, तै मैनु कोई फरक नहीं
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया ।
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ॥
जग में सुन्दर है दो नाम, चाहे कृष्ण
बोलो राम राम राम, बोलो श्याम श्याम
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
आँखों को इंतज़ार है सरकार आपका
ना जाने होगा कब हमें दीदार आपका
मेरी करुणामयी सरकार पता नहीं क्या दे
क्या दे दे भई, क्या दे दे
कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना
इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से
गोविन्द नाम लेकर, फिर प्राण तन से
राधे मोरी बंसी कहा खो गयी,
कोई ना बताये और शाम हो गयी,
तेरे दर पे आके ज़िन्दगी मेरी
यह तो तेरी नज़र का कमाल है,
कोई पकड़ के मेरा हाथ रे,
मोहे वृन्दावन पहुंच देओ ।