Share this page on following platforms.

Home Gurus Sudhanshu ji

Popular Sudhanshu Ji Maharaj & Ashram videos

Bhajan Sandhya from Ananddham Ashram - February 16, 2015

Swami Hari Har ji Maharaj en Geeta Ashram Lima Perú

sudhanshuji maharaj - guru poornima at shiv dham ashram in panchkula part-1

Bramhalok ashram raipur guru purnima2009 param pujya sudhanshuji maharaj

His Holiness Sudhanshuji Maharaj on Sewa

sudhanshuji maharaj - guru poornima at shiv dham ashram in panchkula...... part-3

Joyful Divine Holi 2012 Satsang Part 2

Some Questions, Answered by His Holiness Sudhanshuji Maharaj, at Manali 2012

Joyful Divine Holi 2012 Satsang Part 1

Sudhanshuji Maharaj - Special Message for Diwali on Sharad Purnima

Contents of this list:

Bhajan Sandhya from Ananddham Ashram - February 16, 2015
Swami Hari Har ji Maharaj en Geeta Ashram Lima Perú
sudhanshuji maharaj - guru poornima at shiv dham ashram in panchkula part-1
Bramhalok ashram raipur guru purnima2009 param pujya sudhanshuji maharaj
His Holiness Sudhanshuji Maharaj on Sewa
sudhanshuji maharaj - guru poornima at shiv dham ashram in panchkula...... part-3
Joyful Divine Holi 2012 Satsang Part 2
Some Questions, Answered by His Holiness Sudhanshuji Maharaj, at Manali 2012
Joyful Divine Holi 2012 Satsang Part 1
Sudhanshuji Maharaj - Special Message for Diwali on Sharad Purnima

Bhajan Lyrics View All

कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
अपनी वाणी में अमृत घोल
अपनी वाणी में अमृत घोल
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई
कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
मुझे चाहिए बस सहारा तुम्हारा,
के नैनों में गोविन्द नज़ारा तुम्हार
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
कहना कहना आन पड़ी मैं तेरे द्वार ।
मुझे चाकर समझ निहार ॥
श्यामा तेरे चरणों की गर धूल जो मिल
सच कहता हूँ मेरी तकदीर बदल जाए॥
राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥
ਮੇਰੇ ਕਰਮਾਂ ਵੱਲ ਨਾ ਵੇਖਿਓ ਜੀ,
ਕਰਮਾਂ ਤੋਂ ਸ਼ਾਰਮਾਈ ਹੋਈ ਆਂ
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
आँखों को इंतज़ार है सरकार आपका
ना जाने होगा कब हमें दीदार आपका
तेरे दर की भीख से है,
मेरा आज तक गुज़ारा
दुनिया का बन कर देख लिया, श्यामा का बन
राधा नाम में कितनी शक्ति है, इस राह पर
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
प्रीतम बोलो कब आओगे॥
बालम बोलो कब आओगे॥
दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया ।
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ॥
ये तो बतादो बरसानेवाली,मैं कैसे
तेरी कृपा से है यह जीवन है मेरा,कैसे
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
हो मेरी लाडो का नाम श्री राधा
श्री राधा श्री राधा, श्री राधा श्री
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
मेरा आपकी कृपा से,
सब काम हो रहा है