Share this page on following platforms.

Home Gurus Shri Shri Ravishankar ji

Sri Sri Ravi Shankar Ji

Ego - Sri Sri Ravi Shankar

Sri Sri Ravi Shankar Addresses Businessmen in Helsinki, Finland

ART OF LIVING (02-10-07)

ART OF LIVING (06-10-07)

Sri Sri Ravi Shankar sings bhajan at Canada eve satsang in 2010

Questions from Youth - Answers from Sri Sri

Sri Sri Addresses Ulema's Meet, Hyderabad.

Stumbling Blocks Talk By Sri Sri Ravi Shankar

A One to One Interview with Sri Sri Ravi Shankar

H.H. Sri Sri Ravi Shankar - A talk for Nature of enlightenment

Interaction with Sri Sri - Values in Education, Jaipur

Why do we Need to Meditate ? - Sri Sri Ravi Shankar

Meet guru kingmaker Sri Sri Ravishankar

Satsang with Sri Sri

How to Overcome Problems and Worries - Sri Sri Ravi Shankar

Peace in Middle East

Hari Narayan - Sri Sri Ravi Shankar

Shiva Om - Sri Sri Ravi Shankar

Ashtavakra - Intro.mp4

You are not alone my dear - Sri Sri Ravi Shankar

Yoga and Meditation class by Sri Sri Ravi Shankar

Contents of this list:

Ego - Sri Sri Ravi Shankar
Sri Sri Ravi Shankar Addresses Businessmen in Helsinki, Finland
ART OF LIVING (02-10-07)
ART OF LIVING (06-10-07)
Sri Sri Ravi Shankar sings bhajan at Canada eve satsang in 2010
Questions from Youth - Answers from Sri Sri
Sri Sri Addresses Ulema's Meet, Hyderabad.
Stumbling Blocks Talk By Sri Sri Ravi Shankar
A One to One Interview with Sri Sri Ravi Shankar
H.H. Sri Sri Ravi Shankar - A talk for Nature of enlightenment
Interaction with Sri Sri - Values in Education, Jaipur
Why do we Need to Meditate ? - Sri Sri Ravi Shankar
Meet guru kingmaker Sri Sri Ravishankar
Satsang with Sri Sri
How to Overcome Problems and Worries - Sri Sri Ravi Shankar
Peace in Middle East
Hari Narayan - Sri Sri Ravi Shankar
Shiva Om - Sri Sri Ravi Shankar
Ashtavakra - Intro.mp4
You are not alone my dear - Sri Sri Ravi Shankar
Yoga and Meditation class by Sri Sri Ravi Shankar

Bhajan Lyrics View All

मुझे चाहिए बस सहारा तुम्हारा,
के नैनों में गोविन्द नज़ारा तुम्हार
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
मन चल वृंदावन धाम, रटेंगे राधे राधे
मिलेंगे कुंज बिहारी, ओढ़ के कांबल
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
सांवरियो है सेठ, म्हारी राधा जी
यह तो जाने दुनिया सारी है
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,
मेरा यार यशुदा कुंवर हो चूका है
वो दिल हो चूका है जिगर हो चूका है
कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना
हे राम, हे राम, हे राम, हे राम
जग में साचे तेरो नाम । हे राम...
दुनिया का बन कर देख लिया, श्यामा का बन
राधा नाम में कितनी शक्ति है, इस राह पर
सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
मेरी करुणामयी सरकार, मिला दो ठाकुर से
कृपा करो भानु दुलारी, श्री राधे
प्रीतम बोलो कब आओगे॥
बालम बोलो कब आओगे॥
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
प्रभु कर कृपा पावँरी दीन्हि
सादर भारत शीश धरी लीन्ही
इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से
गोविन्द नाम लेकर, फिर प्राण तन से
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥
एक कोर कृपा की करदो स्वामिनी श्री
दासी की झोली भर दो लाडली श्री राधे॥
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
दिल की हर धड़कन से तेरा नाम निकलता है
तेरे दर्शन को मोहन तेरा दास तरसता है
एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
Ye Saare Khel Tumhare Hai Jag
Kahta Khel Naseebo Ka
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा