Share this page on following platforms.

Home Gurus Shri Shri Ravishankar ji

ravishankar tamil

GURUJI SRI SRI RAVISHANKAR SATSANG TAMIL-1

GURUJI SRI SRI RAVISHANKAR SATSANG TAMIL-2

Dec 9: Satsang with Sri Sri Ravi Shankar

Mega Celebration with Sri Sri in Coimbatore, Jan 30 - 31st, 2014

Sri Sri Ravi Shankar ji Visits Thootukudi - Part I

Sri Sri Visits Tuticorin Part II - September 23rd 2011

Sri Sri Speaks on 4 Pillars of Knowledge

Question and Answer with Sri Sri Ravishankar - Tamil

Question and Answer with Sri Sri Ravishankar in Tamil

Who is God - Sri Sri's Speech in Tamil

Satsang with His Holiness Sri Sri Ravishankar

Katre En Vaasal Vandhai - Rhythm Tamil Song - Arjun, Jyothika

Contents of this list:

GURUJI SRI SRI RAVISHANKAR SATSANG TAMIL-1
GURUJI SRI SRI RAVISHANKAR SATSANG TAMIL-2
Dec 9: Satsang with Sri Sri Ravi Shankar
Mega Celebration with Sri Sri in Coimbatore, Jan 30 - 31st, 2014
Sri Sri Ravi Shankar ji Visits Thootukudi - Part I
Sri Sri Visits Tuticorin Part II - September 23rd 2011
Sri Sri Speaks on 4 Pillars of Knowledge
Question and Answer with Sri Sri Ravishankar - Tamil
Question and Answer with Sri Sri Ravishankar in Tamil
Who is God - Sri Sri's Speech in Tamil
Satsang with His Holiness Sri Sri Ravishankar
Katre En Vaasal Vandhai - Rhythm Tamil Song - Arjun, Jyothika

Bhajan Lyrics View All

राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
इक तारा वाजदा जी हर दम गोविन्द
जग ताने देंदा ए, तै मैनु कोई फरक नहीं
तीनो लोकन से न्यारी राधा रानी हमारी।
राधा रानी हमारी, राधा रानी हमारी॥
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।
कोई कहे गोविंदा, कोई गोपाला।
मैं तो कहुँ सांवरिया बाँसुरिया वाला॥
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।
एक कोर कृपा की करदो स्वामिनी श्री
दासी की झोली भर दो लाडली श्री राधे॥
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
वृन्दावन के बांके बिहारी,
हमसे पर्दा करो ना मुरारी ।
जिनको जिनको सेठ बनाया वो क्या
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ।
हे राम, हे राम, हे राम, हे राम
जग में साचे तेरो नाम । हे राम...
राधे राधे बोल, राधे राधे बोल,
बरसाने मे दोल, के मुख से राधे राधे बोल,
तुम रूठे रहो मोहन,
हम तुमको मन लेंगे
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,
हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
वो तो दशरथ राज दुलारे हैं
श्यामा प्यारी मेरे साथ हैं,
फिर डरने की क्या बात है
मन चल वृंदावन धाम, रटेंगे राधे राधे
मिलेंगे कुंज बिहारी, ओढ़ के कांबल
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
रंगीलो राधावल्लभ लाल, जै जै जै श्री
विहरत संग लाडली बाल, जै जै जै श्री
मोहे आन मिलो श्याम, बहुत दिन बीत गए।
बहुत दिन बीत गए, बहुत युग बीत गए ॥
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
हो मेरी लाडो का नाम श्री राधा
श्री राधा श्री राधा, श्री राधा श्री