Share this page on following platforms.

Home Gurus Shri Shri Ravishankar ji

Bhajan Sri Sri Ravi Shankar Ji

Private video

Sri Sri Ravi Shankar playing Piano

Radhe Radhe Govinda Radhe

Art of Living Bhajan - Hari Sundar Nand Mukunda

Maha Shiva Ratri Celebrations Amol Shende Sri Sri

Tera Main...

Guruji Singing in Tokyo

H H Sri Sri Ravi Shankar Sings The Beautiful Bhajan Sundaranana

Guruji Singing in Tokyo

Ajab Si Adaaen Hain Guruji

Tujh mein Rab Dikhta hai Guruji

heri sakhi mangal gao ri.wmv

Maine Socha Na Tha..

Tumse O Jori

Humain Rasto ki zarurat nahi.wmv

Tera Mein Sri Sri

Sri Sri RAVISHANKAR - Prabhujee

Sri Sri RAVISHANKAR - Prabhujee

sri sri ravi shankar ji piya ghar aawenge by bharat kwatra

Sri Sri Ravishankar - Alak Niranjana Bhava Bhaya Bhanjana

Mann Ki Lagan - Dedicated 2 Guruji

Contents of this list:

Private video
Sri Sri Ravi Shankar playing Piano
Radhe Radhe Govinda Radhe
Art of Living Bhajan - Hari Sundar Nand Mukunda
Maha Shiva Ratri Celebrations Amol Shende Sri Sri
Tera Main...
Guruji Singing in Tokyo
H H Sri Sri Ravi Shankar Sings The Beautiful Bhajan Sundaranana
Guruji Singing in Tokyo
Ajab Si Adaaen Hain Guruji
Tujh mein Rab Dikhta hai Guruji
heri sakhi mangal gao ri.wmv
Maine Socha Na Tha..
Tumse O Jori
Humain Rasto ki zarurat nahi.wmv
Tera Mein Sri Sri
Sri Sri RAVISHANKAR - Prabhujee
Sri Sri RAVISHANKAR - Prabhujee
sri sri ravi shankar ji piya ghar aawenge by bharat kwatra
Sri Sri Ravishankar - Alak Niranjana Bhava Bhaya Bhanjana
Mann Ki Lagan - Dedicated 2 Guruji

Bhajan Lyrics View All

एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
कोई कहे गोविंदा, कोई गोपाला।
मैं तो कहुँ सांवरिया बाँसुरिया वाला॥
कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
इक तारा वाजदा जी हर दम गोविन्द
जग ताने देंदा ए, तै मैनु कोई फरक नहीं
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई
मीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे,
मने कारो कारो जमुनाजी रो पानी लागे
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।
राधे मोरी बंसी कहा खो गयी,
कोई ना बताये और शाम हो गयी,
राधे तु कितनी प्यारी है ॥
तेरे संग में बांके बिहारी कृष्ण
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,
मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
मन चल वृंदावन धाम, रटेंगे राधे राधे
मिलेंगे कुंज बिहारी, ओढ़ के कांबल
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
वृदावन जाने को जी चाहता है,
राधे राधे गाने को जी चाहता है,
तेरे दर की भीख से है,
मेरा आज तक गुज़ारा
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से
गोविन्द नाम लेकर, फिर प्राण तन से
ना मैं मीरा ना मैं राधा,
फिर भी श्याम को पाना है ।
ज़रा छलके ज़रा छलके वृदावन देखो
ज़रा हटके ज़रा हटके ज़माने से देखो
हम राम जी के, राम जी हमारे हैं
वो तो दशरथ राज दुलारे हैं
दुनिया से मैं हारा तो आया तेरे द्वार,
यहाँ से गर जो हरा कहाँ जाऊँगा सरकार
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन