Share this page on following platforms.

Home Gurus Rameshbhaiji Oza ji

rameshbhai oza bhajans

Venu Gita

dena ho to dijiye janam janam

RAMESHBHAI OJHA BHAJAN Tumko Dekha To ..........Zindgi Dhoop hai

Koi Piyo Re Payala Ram Ras Ka - Rameshbhai Ojha - Sankirtan

Kailas Ke Nivasi

Gujarati Bhajan - Guru Bhajan By Ramesh Bhai Oza

Shri Ramesh Bhai oza ji Bhajan - Krishna Tere Naam Per -up. Akhilesh Bilgaiya

Rameshbhai Oza - Aasra Is Jahan Ka Mile Na Mile

KRISHNA BHAJAN - SHRI RAMESHBHAI OZA JI - RADHA MADHAV NEELMANI

RAMESH BHAI OZA , HEY GOVIND HEY GOPAL ABTHO JEEVAN HARA

Sri Rudrashtakam - Slow Version by Ramesh Bhai Oza {HD }

Shri Ramesh Bhai oza ji - Bhajan Aiso Ras Rachayo

MITHE RAS SE BHARI RE RADHA RANI LAGE Rameshbhaiji Oza YouTube

Krishna Tame Chho Mara Jivan rath na Sarthi

Contents of this list:

Venu Gita
dena ho to dijiye janam janam
RAMESHBHAI OJHA BHAJAN Tumko Dekha To ..........Zindgi Dhoop hai
Koi Piyo Re Payala Ram Ras Ka - Rameshbhai Ojha - Sankirtan
Kailas Ke Nivasi
Gujarati Bhajan - Guru Bhajan By Ramesh Bhai Oza
Shri Ramesh Bhai oza ji Bhajan - Krishna Tere Naam Per -up. Akhilesh Bilgaiya
Rameshbhai Oza - Aasra Is Jahan Ka Mile Na Mile
KRISHNA BHAJAN - SHRI RAMESHBHAI OZA JI - RADHA MADHAV NEELMANI
RAMESH BHAI OZA , HEY GOVIND HEY GOPAL ABTHO JEEVAN HARA
Sri Rudrashtakam - Slow Version by Ramesh Bhai Oza {HD }
Shri Ramesh Bhai oza ji - Bhajan Aiso Ras Rachayo
MITHE RAS SE BHARI RE RADHA RANI LAGE Rameshbhaiji Oza YouTube
Krishna Tame Chho Mara Jivan rath na Sarthi

Bhajan Lyrics View All

मेरा यार यशुदा कुंवर हो चूका है
वो दिल हो चूका है जिगर हो चूका है
राधे मोरी बंसी कहा खो गयी,
कोई ना बताये और शाम हो गयी,
श्यामा प्यारी मेरे साथ हैं,
फिर डरने की क्या बात है
ਮੇਰੇ ਕਰਮਾਂ ਵੱਲ ਨਾ ਵੇਖਿਓ ਜੀ,
ਕਰਮਾਂ ਤੋਂ ਸ਼ਾਰਮਾਈ ਹੋਈ ਆਂ
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
मेरा आपकी कृपा से,
सब काम हो रहा है
श्याम बुलाये राधा नहीं आये,
आजा मेरी प्यारी राधे बागो में झूला
मेरी विनती यही है राधा रानी, कृपा
मुझे तेरा ही सहारा महारानी, चरणों से
मुझे चाहिए बस सहारा तुम्हारा,
के नैनों में गोविन्द नज़ारा तुम्हार
अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,
ज़रा छलके ज़रा छलके वृदावन देखो
ज़रा हटके ज़रा हटके ज़माने से देखो
हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ
वृन्दावन के बांके बिहारी,
हमसे पर्दा करो ना मुरारी ।
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।
दुनिया का बन कर देख लिया, श्यामा का बन
राधा नाम में कितनी शक्ति है, इस राह पर
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
जिनको जिनको सेठ बनाया वो क्या
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ।
ना मैं मीरा ना मैं राधा,
फिर भी श्याम को पाना है ।
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
तुम रूठे रहो मोहन,
हम तुमको मन लेंगे
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन