Share this page on following platforms.

Home Gurus Kripaluji

Maharaj Ji Bhajan

Radhey Govind Govind Radhey Radhey

Shri Radhey Barsanevari

Radhey Radhey Govinda-Parikrama Kirtan

Aa Ja Aa Ja Radhey

Aarti of Radha Krishna

Mere Shyam

Hare Ram Chanting

JAGADGURU KRIPALUJI MAHARAJ

Radhey Radhey Govind

Bhajo Giridhar Govinda Gopala (Ver. 2)

Shree Radhey Radhey Radhey

Pyari pyari bhori bhari Barsanevari

Topai vari vari pyari Barsanevari

Ras Barsaneywari

Shyam Prem Ras Maati, Ankhiyaa!

Balihari Hai Tihari Guru Balihari

Radha Meri Gati Mati

AARTI - JAGADGURU KRIPALUJI MAHARAJ

Bhakti-yog-rasavatar Jagadguru Shri Kripalu Ji Maharaj

Jagadguru Kripaluji Maharaj Divine satsang & kirtan

Mere Nandnandan - Divine Keertan by Jagadguru Shree Kripalu Ji Maharaj

Aaja Aaja Radhey - Divine Keertan by Jagadguru Kripalu Ji Maharaj in Rangeeli Mahal Barsana, India

Naache Nandnandan - Divine Keertan by Jagadguru Shri Kripalu Ji Maharaj

Jai Jai Piya Pyari

Jayati Guruvar

"Aho Hari ! Ohu Din Kab Ahiyen"(Satsang By Jagadguru Kripaluji Maharaj)

Jai Nandnandan Sukhdham Hare

"Gopi Jan Vallabh Shyam" (Satsang By Jagadguru Kripaluji Maharaj)

Ankhiyan, Shyam Prem Ras Mati

Contents of this list:

Radhey Govind Govind Radhey Radhey
Shri Radhey Barsanevari
Radhey Radhey Govinda-Parikrama Kirtan
Aa Ja Aa Ja Radhey
Aarti of Radha Krishna
Mere Shyam
Hare Ram Chanting
JAGADGURU KRIPALUJI MAHARAJ
Radhey Radhey Govind
Bhajo Giridhar Govinda Gopala (Ver. 2)
Shree Radhey Radhey Radhey
Pyari pyari bhori bhari Barsanevari
Topai vari vari pyari Barsanevari
Ras Barsaneywari
Shyam Prem Ras Maati, Ankhiyaa!
Balihari Hai Tihari Guru Balihari
Radha Meri Gati Mati
AARTI - JAGADGURU KRIPALUJI MAHARAJ
Bhakti-yog-rasavatar Jagadguru Shri Kripalu Ji Maharaj
Jagadguru Kripaluji Maharaj Divine satsang & kirtan
Mere Nandnandan - Divine Keertan by Jagadguru Shree Kripalu Ji Maharaj
Aaja Aaja Radhey - Divine Keertan by Jagadguru Kripalu Ji Maharaj in Rangeeli Mahal Barsana, India
Naache Nandnandan - Divine Keertan by Jagadguru Shri Kripalu Ji Maharaj
Jai Jai Piya Pyari
Jayati Guruvar
"Aho Hari ! Ohu Din Kab Ahiyen"(Satsang By Jagadguru Kripaluji Maharaj)
Jai Nandnandan Sukhdham Hare
"Gopi Jan Vallabh Shyam" (Satsang By Jagadguru Kripaluji Maharaj)
Ankhiyan, Shyam Prem Ras Mati

Bhajan Lyrics View All

तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
कोई पकड़ के मेरा हाथ रे,
मोहे वृन्दावन पहुंच देओ ।
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
कान्हा की दीवानी बन जाउंगी,
दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी,
सांवरियो है सेठ, म्हारी राधा जी
यह तो जाने दुनिया सारी है
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से
गोविन्द नाम लेकर, फिर प्राण तन से
अच्युतम केशवं राम नारायणं,
कृष्ण दमोधराम वासुदेवं हरिं,
ना मैं मीरा ना मैं राधा,
फिर भी श्याम को पाना है ।
दिल की हर धड़कन से तेरा नाम निकलता है
तेरे दर्शन को मोहन तेरा दास तरसता है
दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया ।
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ॥
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
यशोमती मैया से बोले नंदलाला,
राधा क्यूँ गोरी, मैं क्यूँ काला
अपनी वाणी में अमृत घोल
अपनी वाणी में अमृत घोल
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
मेरा आपकी कृपा से,
सब काम हो रहा है
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
वृन्दावन के बांके बिहारी,
हमसे पर्दा करो ना मुरारी ।
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
वृंदावन में हुकुम चले बरसाने वाली का,
कान्हा भी दीवाना है श्री श्यामा
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
प्रभु कर कृपा पावँरी दीन्हि
सादर भारत शीश धरी लीन्ही
मुझे रास आ गया है,
तेरे दर पे सर झुकाना