Share this page on following platforms.

Home Gurus Kripaluji

Jagadguru Kripaluji Maharaj Lectures with Subtitles

The Importance of Ram Navami [Full Lecture] - Jagadguru Kripaluji Maharaj

What is True ? - Jagadguru Kripaluji Maharaj [Eng Subtitles]

We're All Crazy! - Jagadguru Kripaluji Maharaj [Subtitled]

The Science of Charity - Jagadguru Kripaluji Maharaj [Eng Subtitles]

Kripaluji Maharaj - Incredible Singapore Lecture [Subtitled]

Powerful Lecture by Jagadguru Kripaluji Maharaj [Eng Subtitles]

O Krishna, Please Give In - Jagadguru Kripaluji Maharaj [Subtitled]

The Ultimate Goal of Life - Kripaluji Maharaj [Subtitled]

Who is Radha Rani? - Kripaluji Maharaj Explains

Jagadguru Kripaluji Maharaj - 2010 Brahmapur Speech [Eng Subtitles]

God Alone is Ours - Kripaluji Maharaj [Subtitled]

Jagadguru Kripaluji Maharaj - Hong Kong Speech [Eng Subtitles]

Must Watch! The Power of God's Name - Jagadguru Kripaluji Maharaj [Subtitled]

True Meaning of Sankirtan - Jagadguru Kripaluji Maharaj [Subtitled]

Shiva and Krishna are One - Jagadguru Kripaluji Maharaj [Subtitled]

Who is a Guru? - Lecture by Kripaluji Maharaj [Subtitled]

The Shortest Path to God - Kripaluji Maharaj speaks at Jagannath Puri [Subtitled]

Contents of this list:

The Importance of Ram Navami [Full Lecture] - Jagadguru Kripaluji Maharaj
What is True ? - Jagadguru Kripaluji Maharaj [Eng Subtitles]
We're All Crazy! - Jagadguru Kripaluji Maharaj [Subtitled]
The Science of Charity - Jagadguru Kripaluji Maharaj [Eng Subtitles]
Kripaluji Maharaj - Incredible Singapore Lecture [Subtitled]
Powerful Lecture by Jagadguru Kripaluji Maharaj [Eng Subtitles]
O Krishna, Please Give In - Jagadguru Kripaluji Maharaj [Subtitled]
The Ultimate Goal of Life - Kripaluji Maharaj [Subtitled]
Who is Radha Rani? - Kripaluji Maharaj Explains
Jagadguru Kripaluji Maharaj - 2010 Brahmapur Speech [Eng Subtitles]
God Alone is Ours - Kripaluji Maharaj [Subtitled]
Jagadguru Kripaluji Maharaj - Hong Kong Speech [Eng Subtitles]
Must Watch! The Power of God's Name - Jagadguru Kripaluji Maharaj [Subtitled]
True Meaning of Sankirtan - Jagadguru Kripaluji Maharaj [Subtitled]
Shiva and Krishna are One - Jagadguru Kripaluji Maharaj [Subtitled]
Who is a Guru? - Lecture by Kripaluji Maharaj [Subtitled]
The Shortest Path to God - Kripaluji Maharaj speaks at Jagannath Puri [Subtitled]

Bhajan Lyrics View All

नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
कैसे जिऊ मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही ना लागे तुम्हारे बिना
कान्हा की दीवानी बन जाउंगी,
दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी,
साँवरिया ऐसी तान सुना,
ऐसी तान सुना मेरे मोहन, मैं नाचू तू गा
मेरा आपकी कृपा से,
सब काम हो रहा है
मुझे चाहिए बस सहारा तुम्हारा,
के नैनों में गोविन्द नज़ारा तुम्हार
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
मीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे,
मने कारो कारो जमुनाजी रो पानी लागे
यशोमती मैया से बोले नंदलाला,
राधा क्यूँ गोरी, मैं क्यूँ काला
ना मैं मीरा ना मैं राधा,
फिर भी श्याम को पाना है ।
कोई पकड़ के मेरा हाथ रे,
मोहे वृन्दावन पहुंच देओ ।
वृन्दावन के बांके बिहारी,
हमसे पर्दा करो ना मुरारी ।
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
एक दिन वो भोले भंडारी बन कर के ब्रिज
पारवती भी मना कर ना माने त्रिपुरारी,
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
मेरे जीवन की जुड़ गयी डोर, किशोरी तेरे
किशोरी तेरे चरणन में, महारानी तेरे
इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से
गोविन्द नाम लेकर, फिर प्राण तन से
राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आयंगे।
एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे ॥
बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा।
वृंदावन में हुकुम चले बरसाने वाली का,
कान्हा भी दीवाना है श्री श्यामा
मन चल वृंदावन धाम, रटेंगे राधे राधे
मिलेंगे कुंज बिहारी, ओढ़ के कांबल
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
बहुत बड़ा दरबार तेरो बहुत बड़ा दरबार,
चाकर रखलो राधा रानी तेरा बहुत बड़ा
रंगीलो राधावल्लभ लाल, जै जै जै श्री
विहरत संग लाडली बाल, जै जै जै श्री
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई