Share this page on following platforms.

Home Gurus Jaya Kishori ji

Jaya kishori ji

Deleted video

Jaya Kishori Ji Bhajan - O Maa Tu Kitni Achchi Hai

bhagat ke bas me hai bhagwan

Radhe Krishna Radhe Krishna Krishna Krishna Radhe Radhe by Jaya Kishori ji

Deleted video

Deleted video

Deleted video

Deleted video

Deleted video

Deleted video

Deleted video

Deleted video

Deleted video

Deleted video

Deleted video

Deleted video

Deleted video

Deleted video

Deleted video

Radhe Krishna Radhe Krishna Krishna Krishna Radhe Radhe by Jaya Kishori ji

Radhe Krishna Radhe Krishna Krishna Krishna Radhe Radhe by Jaya Kishori ji

Contents of this list:

Deleted video
Jaya Kishori Ji Bhajan - O Maa Tu Kitni Achchi Hai
bhagat ke bas me hai bhagwan
Radhe Krishna Radhe Krishna Krishna Krishna Radhe Radhe by Jaya Kishori ji
Deleted video
Deleted video
Deleted video
Deleted video
Deleted video
Deleted video
Deleted video
Deleted video
Deleted video
Deleted video
Deleted video
Deleted video
Deleted video
Deleted video
Deleted video
Radhe Krishna Radhe Krishna Krishna Krishna Radhe Radhe by Jaya Kishori ji
Radhe Krishna Radhe Krishna Krishna Krishna Radhe Radhe by Jaya Kishori ji

Bhajan Lyrics View All

ये सारे खेल तुम्हारे है
जग कहता खेल नसीबों का
वृंदावन में हुकुम चले बरसाने वाली का,
कान्हा भी दीवाना है श्री श्यामा
मुँह फेर जिधर देखु मुझे तू ही नज़र आये
हम छोड़के दर तेरा अब और किधर जाये
Ye Saare Khel Tumhare Hai Jag
Kahta Khel Naseebo Ka
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
मोहे आन मिलो श्याम, बहुत दिन बीत गए।
बहुत दिन बीत गए, बहुत युग बीत गए ॥
नटवर नागर नंदा, भजो रे मन गोविंदा
शयाम सुंदर मुख चंदा, भजो रे मन
कहना कहना आन पड़ी मैं तेरे द्वार ।
मुझे चाकर समझ निहार ॥
यशोमती मैया से बोले नंदलाला,
राधा क्यूँ गोरी, मैं क्यूँ काला
मीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे,
मने कारो कारो जमुनाजी रो पानी लागे
प्रभु कर कृपा पावँरी दीन्हि
सादर भारत शीश धरी लीन्ही
तीनो लोकन से न्यारी राधा रानी हमारी।
राधा रानी हमारी, राधा रानी हमारी॥
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।
रंगीलो राधावल्लभ लाल, जै जै जै श्री
विहरत संग लाडली बाल, जै जै जै श्री
मेरे जीवन की जुड़ गयी डोर, किशोरी तेरे
किशोरी तेरे चरणन में, महारानी तेरे
सांवरियो है सेठ, म्हारी राधा जी
यह तो जाने दुनिया सारी है
ज़रा छलके ज़रा छलके वृदावन देखो
ज़रा हटके ज़रा हटके ज़माने से देखो
प्रीतम बोलो कब आओगे॥
बालम बोलो कब आओगे॥
तेरे बगैर सांवरिया जिया नही जाये
तुम आके बांह पकड लो तो कोई बात बने‌॥
श्यामा तेरे चरणों की गर धूल जो मिल
सच कहता हूँ मेरी तकदीर बदल जाए॥
हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ
यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
तुम रूठे रहो मोहन,
हम तुमको मन लेंगे
राधिका गोरी से ब्रिज की छोरी से ,
मैया करादे मेरो ब्याह,
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
जीवन खतम हुआ तो जीने का ढंग आया
जब शमा बुझ गयी तो महफ़िल में रंग आया
सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।