Share this page on following platforms.

Home Gurus Ravinandan shastri ji

Popular Sadhvi Rithambara & Purnima videos

Thodi Si Aur Pila De by Sadhvi Purnima Ji (Poonam Didi)

sadhvi purnima

Guru Purnima & Art of Living Discourse by Sadhvi Bhagawati Saraswati Eps 01

sadhvi purnima

Guru Purnima 2013 Pujya Didimaa Sadhvi Ritambhara ji

Prem Ke Bandhan Mein Mohan Bandh Gaye by Sadhvi Purnima Ji

Faridababd Sankirtan by Sadhvi Purnima Ji Poonam Didi Part 2

Sadhvi Purnima (Poonam Didi) Ji on Barsana Holi Samaj 2014

Jai Vithal Vithal Girdhari Yamuna Ji Ki Balihari by Sadhvi Purnima Ji

Jai Vithal Vithal Girdhari Yamuna Ji Ki Balihari by Sadhvi Purnima Ji Part 2

Jai Vithal Vithal Girdhari Yamuna Ji Ki Balihari by Sadhvi Purnima Ji Part 1

Second Palwal Bhaktmal Katha Champa Bai By Sadhvi Purnima Ji Part 1

Kamli Vale Ne Kamla Bana Laya By Sadhvi Purnima Ji

First Bhaktmal Katha Held at Ladwa by Sadhvi Purnima Ji

Faridabad Sankirtan by Sadhvi Poornima Ji (Poonam Didi) on 30th August

Hari Naam Mahamantra Sung By Sadhvi Poornima Ji (Poonam Didi)

Aaj Mohe Radha Chal Gayi Re by Sadhvi Poornima Ji (Poonam Didi)

Contents of this list:

Thodi Si Aur Pila De by Sadhvi Purnima Ji (Poonam Didi)
sadhvi purnima
Guru Purnima & Art of Living Discourse by Sadhvi Bhagawati Saraswati Eps 01
Radha Ashtami Sankirtan 2014 by Sadhvi Purnima and Didi Chandarkala Ji
sadhvi purnima
Guru Purnima 2013 Pujya Didimaa Sadhvi Ritambhara ji
Prem Ke Bandhan Mein Mohan Bandh Gaye by Sadhvi Purnima Ji
Faridababd Sankirtan by Sadhvi Purnima Ji Poonam Didi Part 2
Radha Ashtami Sankirtan 2014 by Sadhvi Purnima Ji Part 5
Ladli Radhe Swamini Radhe by Sadhvi Purnima ji at Barsana Samaj on Holi 2015
Radha Ashtami Sankirtan 2014 by Sadhvi Purnima Ji Part 2
Sadhvi Purnima (Poonam Didi) Ji on Barsana Holi Samaj 2014
Radha Ashtami Sankirtan 2014 by Sadhvi Purnima Ji Part 3
Baba Tera Mera Pyar Kabhi Na Badle by Sadhvi Purnima Ji
Radha Ashtami Sankirtan 2014 by Sadhvi Purnima Ji Part 4
Vrindavan Parikrama Sankirtan by Sadhvi Purnima Ji
Barsana Samaj on Holi Mahostav 2015 Dance by Sadhvi Purnima Ji
Jai Vithal Vithal Girdhari Yamuna Ji Ki Balihari by Sadhvi Purnima Ji
Jai Vithal Vithal Girdhari Yamuna Ji Ki Balihari by Sadhvi Purnima Ji Part 2
Jai Vithal Vithal Girdhari Yamuna Ji Ki Balihari by Sadhvi Purnima Ji Part 1
Second Palwal Bhaktmal Katha Champa Bai By Sadhvi Purnima Ji Part 1
Sawariya Le Chal Parli Paar by Sadhvi Purnima Ji
Kamli Vale Ne Kamla Bana Laya By Sadhvi Purnima Ji
First Bhaktmal Katha Held at Ladwa by Sadhvi Purnima Ji
Faridabad Sankirtan by Sadhvi Poornima Ji (Poonam Didi) on 30th August
Hari Naam Mahamantra Sung By Sadhvi Poornima Ji (Poonam Didi)
Aaj Mohe Radha Chal Gayi Re by Sadhvi Poornima Ji (Poonam Didi)
Ravi Nandan Shastri Ji Guide to All Raskis on Holi Barsana Samaj Sankirtan

Bhajan Lyrics View All

श्यामा तेरे चरणों की गर धूल जो मिल
सच कहता हूँ मेरी तकदीर बदल जाए॥
मुझे रास आ गया है, तेरे दर पे सर झुकाना
तुझे मिल गया पुजारी, मुझे मिल गया
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।
ज़री की पगड़ी बाँधे, सुंदर आँखों वाला,
कितना सुंदर लागे बिहारी कितना लागे
तेरे दर पे आके ज़िन्दगी मेरी
यह तो तेरी नज़र का कमाल है,
वास देदो किशोरी जी बरसाना,
छोडो छोडो जी छोडो जी तरसाना ।
बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा।
Ye Saare Khel Tumhare Hai Jag
Kahta Khel Naseebo Ka
किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाए।
जुबा पे राधा राधा राधा नाम हो जाए॥
राधा कट दी है गलिआं दे मोड़ आज मेरे
श्याम ने आना घनश्याम ने आना
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
बोल कान्हा बोल गलत काम कैसे हो गया,
बिना शादी के तू राधे श्याम कैसे हो
मोहे आन मिलो श्याम, बहुत दिन बीत गए।
बहुत दिन बीत गए, बहुत युग बीत गए ॥
राधे मोरी बंसी कहा खो गयी,
कोई ना बताये और शाम हो गयी,
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
मुझे चाहिए बस सहारा तुम्हारा,
के नैनों में गोविन्द नज़ारा तुम्हार
दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया ।
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ॥
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
हर साँस में हो सुमिरन तेरा,
यूँ बीत जाये जीवन मेरा
दिल की हर धड़कन से तेरा नाम निकलता है
तेरे दर्शन को मोहन तेरा दास तरसता है
तेरे दर की भीख से है,
मेरा आज तक गुज़ारा
वृंदावन में हुकुम चले बरसाने वाली का,
कान्हा भी दीवाना है श्री श्यामा
मेरी करुणामयी सरकार पता नहीं क्या दे
क्या दे दे भई, क्या दे दे
जय राधे राधे, राधे राधे
जय राधे राधे, राधे राधे
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई