Share this page on following platforms.

Home Gurus Radhakrishnaji

Radhakrishnaji Bhagwat

Bhagwat - Part 1

Bhagwat - Part 2

Bhagwat - Part 3

Bhagwat - Part 4

Bhagwat - Part 5

Bhagwat - Part 6

Bhagwat - Part 7

Bhagwat - Part 8

Bhagwat - Part 9

Bhagwat - Part 10

Bhagwat - Part 11

Bhagwat - Part 12

Bhagwat - Part 13

Bhagwat - Part 14

NaniBai Ro Mairo - Part 1

NaniBai Ro Mairo - Part 2

NaniBai Ro Mairo - Part 3

NaniBai Ro Mairo - Part 4

NaniBai Ro Mairo - Part 5

NaniBai Ro Mairo - Part 6

NaniBai Ro Mairo - Part 7

NaniBai Ro Mairo - Part 8

NaniBai Ro Mairo - Part 9

NaniBai Ro Mairo - Part 10

NaniBai Ro Mairo - Part 11

NaniBai Ro Mairo - Part 12

Contents of this list:

Bhagwat - Part 1
Bhagwat - Part 2
Bhagwat - Part 3
Bhagwat - Part 4
Bhagwat - Part 5
Bhagwat - Part 6
Bhagwat - Part 7
Bhagwat - Part 8
Bhagwat - Part 9
Bhagwat - Part 10
Bhagwat - Part 11
Bhagwat - Part 12
Bhagwat - Part 13
Bhagwat - Part 14
NaniBai Ro Mairo - Part 1
NaniBai Ro Mairo - Part 2
NaniBai Ro Mairo - Part 3
NaniBai Ro Mairo - Part 4
NaniBai Ro Mairo - Part 5
NaniBai Ro Mairo - Part 6
NaniBai Ro Mairo - Part 7
NaniBai Ro Mairo - Part 8
NaniBai Ro Mairo - Part 9
NaniBai Ro Mairo - Part 10
NaniBai Ro Mairo - Part 11
NaniBai Ro Mairo - Part 12

Bhajan Lyrics View All

यह मेरी अर्जी है,
मैं वैसी बन जाऊं जो तेरी मर्ज़ी है
मेरे जीवन की जुड़ गयी डोर, किशोरी तेरे
किशोरी तेरे चरणन में, महारानी तेरे
अपने दिल का दरवाजा हम खोल के सोते है
सपने में आ जाना मईया,ये बोल के सोते है
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
हर पल तेरे साथ मैं रहता हूँ,
डरने की क्या बात? जब मैं बैठा हूँ
एक कोर कृपा की करदो स्वामिनी श्री
दासी की झोली भर दो लाडली श्री राधे॥
ज़िंदगी मे हज़ारो का मेला जुड़ा
हंस जब जब उड़ा तब अकेला उड़ा
राधे तु कितनी प्यारी है ॥
तेरे संग में बांके बिहारी कृष्ण
श्याम बुलाये राधा नहीं आये,
आजा मेरी प्यारी राधे बागो में झूला
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
दुनिया का बन कर देख लिया, श्यामा का बन
राधा नाम में कितनी शक्ति है, इस राह पर
ਮੇਰੇ ਕਰਮਾਂ ਵੱਲ ਨਾ ਵੇਖਿਓ ਜੀ,
ਕਰਮਾਂ ਤੋਂ ਸ਼ਾਰਮਾਈ ਹੋਈ ਆਂ
मेरी करुणामयी सरकार पता नहीं क्या दे
क्या दे दे भई, क्या दे दे
दिल लूटके ले गया नी सहेलियो मेरा
मैं तक्दी रह गयी नी सहेलियो लगदा
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
तेरे दर की भीख से है,
मेरा आज तक गुज़ारा
लाली की सुनके मैं आयी
कीरत मैया दे दे बधाई
तीनो लोकन से न्यारी राधा रानी हमारी।
राधा रानी हमारी, राधा रानी हमारी॥
कोई कहे गोविंदा कोई गोपाला,
मैं तो कहूँ सांवरिया बांसुरी वाला ।
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
यशोमती मैया से बोले नंदलाला,
राधा क्यूँ गोरी, मैं क्यूँ काला
मेरा आपकी कृपा से,
सब काम हो रहा है
हे राम, हे राम, हे राम, हे राम
जग में साचे तेरो नाम । हे राम...
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
राधा नाम की लगाई फुलवारी, के पत्ता
के पत्ता पत्ता श्याम बोलता, के पत्ता
इक तारा वाजदा जी हर दम गोविन्द
जग ताने देंदा ए, तै मैनु कोई फरक नहीं
हम प्रेम नगर के बंजारिन है
जप ताप और साधन क्या जाने
लाडली अद्बुत नज़ारा तेरे बरसाने में
लाडली अब मन हमारा तेरे बरसाने में है।
बृज के नन्द लाला राधा के सांवरिया
सभी दुख: दूर हुए जब तेरा नाम लिया
राधा ढूंढ रही किसी ने मेरा श्याम देखा
श्याम देखा घनश्याम देखा