Share this page on following platforms.

Home Gurus Mridul Krishan ji

Raj bhajan

banke bihari mujhe dena sahara

DOOR NAGARI BADI DOOR NAGARI--Mridiul Krishan Shashtri

Madhurashtakam by Mridul Krishna Shastri ji

Mera Koi Na Sahara ( A Divine Bhajan )

♥ Mujhe charno se laga le ,Mere Shyam Murli wale ♥

Mera Koi Na Sahara ( A Divine Bhajan )

BATAO KAHAN MILEGA SHYAM-KRISHNA BHAJAN

Bhagat ke bas mei hai bhagwan (Original SCI BHAJAN) by Jai Shankar Chaudhury

Are dawarpalo lakhbir singh lakha

Krishna Sudama Milan

ek baar to radha bankar dekho mere sawariya radha yun ro ro kahe by jaydeep

Mera Koi Na Sahara ( A Divine Bhajan )

mera ap ki kripa se sab kaam ho rha hai

Shri Ram Jaanki Baithe Hein Mere Seene Mein

ram ji se ram ram kahiyo

Mangal Bhawan Amangal Haari Drubahu Su Dasarath Ajir Bihari I Dashrath Ke Ghar Janme Ram

Tere Jaisa Ram Bhakt [Full Song] Aaj Hanuman Jayanti Hai

Meri Baah Pakad Lo Ik Baar Sanwariya Girdhari by Vinod Agarwal [Krishna Bhajan] I Tu Agar Baksh De

Shri Hanuman Chalisa Bhajans By Hariharan [Full Audio Songs Juke Box]

DOOR NAGARI BADI DOOR NAGARI--Mridiul Krishan Shashtri

Contents of this list:

banke bihari mujhe dena sahara
DOOR NAGARI BADI DOOR NAGARI--Mridiul Krishan Shashtri
Madhurashtakam by Mridul Krishna Shastri ji
Mera Koi Na Sahara ( A Divine Bhajan )
♥ Mujhe charno se laga le ,Mere Shyam Murli wale ♥
Mera Koi Na Sahara ( A Divine Bhajan )
BATAO KAHAN MILEGA SHYAM-KRISHNA BHAJAN
Bhagat ke bas mei hai bhagwan (Original SCI BHAJAN) by Jai Shankar Chaudhury
Are dawarpalo lakhbir singh lakha
Krishna Sudama Milan
ek baar to radha bankar dekho mere sawariya radha yun ro ro kahe by jaydeep
Mera Koi Na Sahara ( A Divine Bhajan )
mera ap ki kripa se sab kaam ho rha hai
Shri Ram Jaanki Baithe Hein Mere Seene Mein
ram ji se ram ram kahiyo
Mangal Bhawan Amangal Haari Drubahu Su Dasarath Ajir Bihari I Dashrath Ke Ghar Janme Ram
Tere Jaisa Ram Bhakt [Full Song] Aaj Hanuman Jayanti Hai
Meri Baah Pakad Lo Ik Baar Sanwariya Girdhari by Vinod Agarwal [Krishna Bhajan] I Tu Agar Baksh De
Shri Hanuman Chalisa Bhajans By Hariharan [Full Audio Songs Juke Box]
DOOR NAGARI BADI DOOR NAGARI--Mridiul Krishan Shashtri

Bhajan Lyrics View All

यशोमती मैया से बोले नंदलाला,
राधा क्यूँ गोरी, मैं क्यूँ काला
मन चल वृंदावन धाम, रटेंगे राधे राधे
मिलेंगे कुंज बिहारी, ओढ़ के कांबल
बांके बिहारी की देख छटा,
मेरो मन है गयो लटा पटा।
ज़रा छलके ज़रा छलके वृदावन देखो
ज़रा हटके ज़रा हटके ज़माने से देखो
श्याम बुलाये राधा नहीं आये,
आजा मेरी प्यारी राधे बागो में झूला
तू राधे राधे गा ,
तोहे मिल जाएं सांवरियामिल जाएं
कैसे जीऊं मैं राधा रानी तेरे बिना
मेरा मन ही न लगे श्यामा तेरे बिना
सांवरिया है सेठ ,मेरी राधा जी सेठानी
यह तो सारी दुनिया जाने है
इतना तो करना स्वामी जब प्राण तन से
गोविन्द नाम लेकर, फिर प्राण तन से
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे ,बलिहार
दाता एक राम, भिखारी सारी दुनिया ।
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ॥
तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की
रंगीलो राधावल्लभ लाल, जै जै जै श्री
विहरत संग लाडली बाल, जै जै जै श्री
आँखों को इंतज़ार है सरकार आपका
ना जाने होगा कब हमें दीदार आपका
प्रभु कर कृपा पावँरी दीन्हि
सादर भारत शीश धरी लीन्ही
नी मैं दूध काहे नाल रिडका चाटी चो
लै गया नन्द किशोर लै गया,
Ye Saare Khel Tumhare Hai Jag
Kahta Khel Naseebo Ka
कान्हा की दीवानी बन जाउंगी,
दीवानी बन जाउंगी मस्तानी बन जाउंगी,
मेरी करुणामयी सरकार, मिला दो ठाकुर से
कृपा करो भानु दुलारी, श्री राधे
एक कोर कृपा की करदो स्वामिनी श्री
दासी की झोली भर दो लाडली श्री राधे॥
फूलों में सज रहे हैं, श्री वृन्दावन
और संग में सज रही है वृषभानु की
जिनको जिनको सेठ बनाया वो क्या
उनसे तो प्यार है हमसे तकरार है ।
तमन्ना यही है के उड के बरसाने आयुं मैं
आके बरसाने में तेरे दिल की हसरतो को
हम हाथ उठाकर कह देंगे हम हो गये राधा
राधा राधा राधा राधा
तीनो लोकन से न्यारी राधा रानी हमारी।
राधा रानी हमारी, राधा रानी हमारी॥
हम प्रेम दीवानी हैं, वो प्रेम दीवाना।
ऐ उधो हमे ज्ञान की पोथी ना सुनाना॥
मेरी रसना से राधा राधा नाम निकले,
हर घडी हर पल, हर घडी हर पल।
तू कितनी अच्ची है, तू कितनी भोली है,
ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ ।
तुम रूठे रहो मोहन,
हम तुमको मन लेंगे
मीठे रस से भरी रे, राधा रानी लागे,
मने कारो कारो जमुनाजी रो पानी लागे